मुंबई: महाराष्ट्र में औरंगाबाद शहर का नाम बदलने को लेकर विवाद जारी है. इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने औरंगाबाद हवाईअड्डे का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज हवाईअड्डा रखने के संबंध में जल्द से जल्द अधिसूचना जारी करने की मांग की है. इसके लिए सीएम ठाकरे ने केंद्र सरकार से अनुरोध भी किया है. सीएम ठाकरे ने इसकी मांग करते हुए नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी को चिट्ठी लिखी है.

नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी को लिखी गई इस चिट्ठी में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने औरंगाबाद हवाईअड्डे का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज के नाम पर रखे जाने से संबंधित राज्य मंत्रिमंडल के फैसले की जानकारी दी. संभाजी, मराठा शासक छत्रपति शिवाजी महाराज के बेटे थे. साथ ही चिट्ठी में इसके संबंध में जल्दी अधिसूचना जारी करने की मांग की है. वहीं औरंगाबाद शहर का नाम बदलने के फैसला का महाराष्ट्र में शिवसेना की सहयोगी पार्टी कांग्रेस की ओर से विरोध किया जा रहा है.

कांग्रेस का विरोध

महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन सरकार में शामिल है. वहीं शिवसेना लंबे समय से औरंगाबाद शहर का नाम बदलकर संभाजीनगर रखने की मांग कर रही है. हालांकि कांग्रेस ने कहा है कि वह ऐसे किसी भी कदम के खिलाफ हैं. कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने शिवसेना को चेतावनी देते हुए कहा कि शिवसेना अपना एंजेडा न थोपे, वरना कांग्रेस पार्टी उसका जबरदस्त विरोध करेगी.

प्रस्ताव हुआ था पास

बता दें कि 1995 में जब शिवसेना और बीजेपी की गठबंधन सरकार महाराष्ट्र की सत्ता में आई थी, तब मुख्यमंत्री मनोहर जोशी की कैबिनेट ने औरंगाबाद का नाम बदलकर संभाजीनगर करने का प्रस्ताव पास दिया था, लेकिन उस प्रस्ताव को अदालत में चुनौती दी गई थी. मामला पहले हाईकोर्ट में गया, फिर सुप्रीम कोर्ट में गया. वहीं अदालत कोई फैसला देती, इससे पहले ही महाराष्ट्र में सत्ता परिवर्तन हो गया. जिसके बाद ये मामला अटक गया.

यह भी पढ़ें:
महाराष्ट्र: औरंगाबाद का नाम बदल कर संभाजीनगर करने पर कांग्रेस को एतराज, शिवसेना से ठनी



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here