Pulwama terror attack accused moves NIA court seeking bail to appear for NEET exams | नीट परीक्षा में शामिल होने के लिए एनआईए की स्पेशल कोर्ट में दायर की याचिका, 3 सितंबर को होगी सुनवाई
Spread the love


  • Hindi News
  • National
  • Pulwama Terror Attack Accused Moves NIA Court Seeking Bail To Appear For NEET Exams

जम्मू2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) काउंसिल के विपिन कालरा ने बताया कि हम आरोपी की याचिका के खिलाफ पैरवी करेंगे।

  • आतंकी हमले के मामले में एनआईए ने पिछले हफ्ते ही 13,500 पन्नों की चार्जशीट फाइल की थी
  • 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में हुए हमले में 40 भारतीय जवान शहीद हुए थे

पुलवामा आतंकी हमले के आरोपी ने नीट परीक्षा में शामिल होने के लिए एनआईए की स्पेशल कोर्ट में जमानत याचिका दायर की है। मामले में आरोपी वैज-उल-इस्लाम की याचिका पर कोर्ट 3 सितंबर को सुनवाई करेगा। नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) काउंसिल के विपिन कालरा ने बताया कि हम आरोपी की याचिका के खिलाफ पैरवी करेंगे।

बता दें कि नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) 2020 की परीक्षा का आयोजन 13 सितंबर को किया जाना है।

आतंकी हमले पर सुनवाई 15 सितंबर को
एनआईए ने पिछले हफ्ते 13,500 पन्नों की चार्जशीट फाइल की थी। इसमें जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर समेत 19 आरोपी हैं। इनमें 7 पाकिस्तानी हैं। अजहर, उसके भाई अब्दुल रऊफ असगर अल्वी, अम्मार अल्वी और भतीजा उमर फारुख मास्टरमाइंड बताए गए हैं। चार्जशीट में नामजद गिरफ्तार आरोपियों में वैज-उल-इस्लाम शामिल है। कोर्ट में मामले की सुनवाई 15 सितंबर को होनी है।

अहम सबूतों के साथ मजबूत केस बनाया
एनआईए अधिकारियों के मुताबिक, एजेंसी ने चार्जशीट में सभी आरोपियों के खिलाफ अहम सबूतों के साथ मजबूत केस बनाया है। इसमें उनकी चैट, कॉल डिटेल्स आदि शामिल हैं, जो 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में हुए हमले में पाकिस्तान की भूमिका को उजागर करते हैं।

भारत के 40 जवान हुए थे शहीद
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बीते साल 14 फरवरी को सीआरपीएफ के एक काफिले पर जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमलावर ने आतंकी हमला किया था। इसमें 40 जवान शहीद हुए थे। इसके करीब 12 दिन बाद भारत ने बालाकोट में घुसकर एयरस्ट्राइक की थी।

ये भी पढ़ सकते हैं…

1. एनआईए ने कहा- जैश सरगना मसूद अजहर और उसके भाइयों ने भारत में आतंकियों को निर्देश देने के लिए पाकिस्तानी सिम इस्तेमाल की

2. आतंकी आदिल की पहचान डीएनए से हुई थी; जैश दूसरे हमले की तैयारी में था, लेकिन एयरस्ट्राइक की वजह से डर गया

0



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here