Spread the love


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • One Of Four Soldiers Buried Under Debris, Three Undergoing Treatment; Policemen Were Preparing To Sleep After Having Food

कानपुर4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हादसे के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे हुए दूसरी बैरक के पुलिसकर्मी।

  • एसएसपी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने कहा- मृतक सिपाही के परिवार को मुआवजा दिया जाएगा
  • उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस लाइन में हुआ हादसा, घटना की जांच की जाएगी

उत्तर प्रदेश के कानपुर में सोमवार को देर रात बड़ा हादसा हो गया। यहां पुलिस लाइन में बैरक की छत गिरने से चार पुलिसकर्मी दब गए। पास की बैरकों से घटनास्थल पर पहुंचे सिपाहियों ने चारों को निकाला। उन्हें कानपुर के रीजेंसी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है। वहीं, एक सिपाही अरविंद की इलाज के दौरान मौत हो गई। हादसे के बाद कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गई।

बैरक गिरने के बाद मलबा हटाते पुलिसकर्मी।

बैरक गिरने के बाद मलबा हटाते पुलिसकर्मी।

घटना के बाद मौके पर आईजी मोहित अग्रवाल और एसएसपी डॉ. प्रीतिंदर सिंह समेत कई बड़े अधिकारी भी पहुंचे। बताया जा रहा है कि बैरक में रहने वाले सिपाही खाना खाने के बाद रात में अपने-अपने बैरक में सोने की तैयारी कर रहे थे। इसी दौरान एक बैरक की छत भरभरा कर गिर पड़ी।

बैरक पूरा खाली करा लिया गया है। सिपाहियों के सामान अंदर हैं, जिन्हें मंगलवार सुबह निकाला जाएगा।

बैरक पूरा खाली करा लिया गया है। सिपाहियों के सामान अंदर हैं, जिन्हें मंगलवार सुबह निकाला जाएगा।

घटना की जांच की जाएगी: एसएसपी

एसएसपी ने कहा- हमारे तीन लोग घायल हो गए, जबकि एक की मौत हो गई है। हम उनके परिवार के प्रति संवेदना जताते हैं। सिपाही के परिवार को मुआवजा दिया जाएगा। उनका अंतिम संस्कार पूरे सम्मान के साथ किया जाएगा। बचाव अभियान लगभग पूरा हो चुका है। घटना की जांच की जाएगी।

घायल हुए सिपाही

हादसे में जो सिपाही घायल हुए हैं, उनमें कौशांबी के अमृतलाल, अजीतमल (औरैया) के मनीष और औरैया अच्छलदा के राकेश हैं। एसएसपी के मुताबिक, बैरक पूरा खाली करा लिया गया है। सिपाहियों के सामान अंदर हैं, जिन्हें मंगलवार सुबह निकाला जाएगा।

0



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here