Sunday, April 11, 2021
Homeक्रिकेटIPL 2020: रिकी पोंटिंग की बड़ी बात, कहा- मांकडिंग पर अब उनकी...

IPL 2020: रिकी पोंटिंग की बड़ी बात, कहा- मांकडिंग पर अब उनकी और अश्विन की एक जैसी सोच | cricket – News in Hindi


रिकी पॉन्टिंग ने मांकड़िंग पर कही नई बात

रिकी पोंटिंग (Ricky ponting) ने कहा कि आर अश्विन ने खेल के नियमों के तहत सब कुछ किया और वह बिल्कुल सही हैं.

दुबई. दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के मुख्य कोच रिकी पोंटिंग (ricky ponting) ने कहा कि गेंद फेंकने से पहले दूसरी छोर के बल्लेबाज को रन आउट करने के मामले में उनकी और टीम के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin) की सोच अब एक जैसी है. पिछले सत्र में किंग्स इलेवन पंजाब का प्रतिनिधित्व करते हुए अश्विन ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में जोस बटलर को इस तरह से आउट किया था. तब उनके मौजूदा आईपीएल कोच ने इसका समर्थन नहीं किया था.

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान ने हालांकि माना की इस मामले पर उनके और अश्विन के विचार अब एक जैसे है. पोंटिंग ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से कहा कि जब मैं यहां पहुंचा था तब इस बारे में पॉडकास्ट पर हमारी अच्छी चर्चा हुई थी.

गेंदबाजी रोककर बल्‍लेबाज को चेतावनी दें
उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि इस मामले पर अब हमारी सोच एक जैसी है. उन्हें लगता है कि उन्होंने खेल के नियमों के तहत सब कुछ किया और वह बिल्कुल सही हैं. अश्विन की बातों में पोटिंग को तर्क भी मिला.उन्होंने कहा कि अश्विन ने मुझे कहा कि अगर मैं आईपीएल की आखिरी गेंद डाल रहा हूं जब विरोधी टीम को जीत के लिए दो रन की जरूरत है और दूसरी छोर का बल्लेबाज पहले ही दौड़ना शुरू कर दे तो क्या करना चाहिए? आप मुझ से क्या उम्मीद करेंगे. इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा कि यहां भी एक तर्क है, लेकिन जैसा कि मैंने उनसे कहा था, मैं उम्मीद करूंगा कि वह गेंदबाजी रोके और मार्कडिंग करने की जगह बल्लेबाज को अगली बार अपने क्रीज में बने रहने के लिए कहें.

यह भी पढ़ें: 

IPL 2020: 19 सितंबर से आईपीएल नहीं खेलेंगे ये 20 स्‍टार क्रिकेटर, ये है वजह

IPL में इस चीज से अनिल कुंबले हैं निराश, क्रिस गेल पर भी कह दी बड़ी बात

खेल में धोखे के लिए नहीं कोई जगह
पोंटिंग ने हालांकि यह स्पष्ट कर दिया कि खेल में ‘धोखा’ के लिए कोई जगह नहीं है, जो दूसरे छोर के बल्लेबाज के समय से पहले क्रीज के बाहर निकलने के बारे में है. पोंटिंग ने इस मामले में पेनल्टी की वकालत करते हुए कहा कि ऐसे मामले में बात वहां तक नहीं पहुंचनी चाहिए, बल्लेबाज को एक-दो कदम आगे निकल कर धोखा नहीं देना चाहिए. इसका कुछ हल निकलना चाहिए. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि अगर वे जानबूझकर अपना क्रीज छोड़ रहे हैं तो आप बल्लेबाज पर किसी प्रकार के रन जुर्माना लगा सकते है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments