Spread the love


इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन के डेब्यू मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस को पांच विकेट से मात देकर शानदार आगाज किया है. लेकिन जीत के बावजूद सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी खुश नहीं है. धोनी का मानना है कि सीएसके की टीम को अभी कुछ डिपॉर्टमेंट्स में बड़े सुधार करने की जरूरत है.

धोनी ने जीत के बाद कहा, ”काफी कुछ पॉजिटिव रहा, लेकिन कुछ ऐसे विभाग हैं जिन पर काम करने की जरूरत है. खासकर टाइमिंग को लेकर. बाद में खेलते हुए ओस पड़ने तक थोड़ा मूवमेंट रहता था. ऐसे में अगर आपके पास विकेट बचे हों तो आप फायदे में रहते हो.”

बता दें कि मुंबई ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर नौ विकेट पर 162 रन बनाये. चेन्नई ने मैन आफ द मैच अंबाती रायुडु के 71 और फाफ डु प्लेसिस के नाबाद 58 रन की मदद से 19.2 ओवर में पांच विकेट पर 166 रन बनाकर जीत दर्ज की. इसके सात ही 2013 से लगातार डेब्यू मैच हारने का मुंबई का सिलसिला बरकरार रहा.

धोनी ने रायडू और डु प्लेसिस की पार्टनरशिप को जीत के लिए महत्वपूर्ण करार दिया. धोनी ने कहा, ”हमारे गेंदबाजों को लय हासिल करने में समय लगा. रायडू ने फाफ के साथ बेहतरीन साझेदारी निभायी. हमारे अधिकतर खिलाड़ी इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं इसलिए अच्छी बात यह है कि हमारा कोई खिलाड़ी चोटिल नहीं है.”

धोनी ने 15 अगस्त को इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का एलान किया था. इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास के बाद मैदान पर उतरने के अनुभव को धोनी ने अलग करार दिया. धोनी ने कहा, ” बेशक आपने बहुत प्रैक्टिस की हो, लेकिन मैदान पर उतरकर खेलना भिन्न होता है. वहां आपको परिस्थितियों का आकलन करके अपना सर्वश्रेष्ठ देना होता है.”

महेंद्र सिंह धोनी ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच पिछले साल न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप में खेला था. सेमीफाइनल मैच में इंडिया की हार से दुखी होकर धोनी ने क्रिकेट से ब्रेक ले लिया था.

IPL 2020 MI Vs CSK Highlights: खराब शुरुआत के बाद रायडू के दम पर धोनी की टीम को 5 विकेट से मिली जीत



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here