Spread the love


रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी की अपने ससुर धीरूभाई अंबानी से काफी अच्छी बॉन्डिंग थी। यहां तक कि उनकी धीरूभाई अंबानी से राजनीति, समाज, मार्केट से लेकर जिंदगी के तमाम पहलुओं पर खुलकर बातचीत होती थी। यही नहीं हर दिन सुबह धीरूभाई अंबानी नीता से शेयर मार्केट, रिलायंस, इंटरनेशनल अफेयर्स आदि पर सवाल पूछते थे। वरिष्ठ पत्रकार करण थापर को दिए एक इंटरव्यू में नीता अंबानी ने कहा था, ‘पापा के सवालों को लेकर एक दिन पहले मैं पूरी तैयारी करती थी। उनके बारे में यह अंदाजा नहीं होता था कि वह कहां से पूछ लेंगे।’ नीता अंबानी के मुताबिक वह अकसर इसके लिए पढ़ाई करती थीं।

नीता अंबानी ने कहा कि भले ही मैं कितनी तैयारी कर लूं, लेकिन अगले दिन पूछे जाने वाले सवाल पूरी तरह अलग होते थे और मैं बोल्ड हो जाती थी। नीता अंबानी ने कहा कि वह दौर था, जब हम परिपक्व हो रहे थे और पापा ने इसमें हमारी मदद की। उनकी सारी यादें आज भी दिमाग में हैं। यही नहीं मुकेश अंबानी ने भी इस इंटरव्यू में कहा था कि उनसे भी धीरूभाई अंबानी अकसर ऐसे सवाल पूछते थे। बता दें कि धीरूभाई अंबानी और कोकिलाबेन अंबानी ने नीता अंबानी को एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में डांस करते हुए देखा था और उन्हें अपनी बहू बनाने का विचार आया था।

इसके बाद धीरूभाई अंबानी ने अगले दिन नीता अंबानी के घर पर फोन किया था। इस फोन को खुद नीता अंबानी ने उठाया था, लेकिन उन्हें लगा कि शायद धीरूभाई अंबानी का नाम लेकर कोई प्रैंक कॉल कर रहा है। नीता अंबानी ने बताया था कि दो बार उन्होंने यह कहते हुए फोन रख दिया था कि मुझे आपसे बात नहीं करनी है। इसके बाद तीसरी बार फिर से फोन रिंग होने पर नीता अंबानी के पिता रविंद्रभाई दलाल ने कॉल रिसीव की थी और नीता को बताया कि धीरूभाई ही बोल रहे हैं और उनसे सही से बात कीजिए।

इसके बाद नीता अंबानी ने अपने होने वाले ससुर से बात की थी। धीरूभाई ने उन्हें अगले दिन अपने घर बुलाया था और मुकेश अंबानी से शादी का प्रस्ताव दिया था। गौरतलब है कि मुकेश अंबानी और नीता अंबानी को अपनी शानदार बॉन्डिंग के लिए भी जाना जाता है। एक इंटरव्यू में खुद नीता अंबानी ने कहा था कि जब जामनगर में हाउसिंस सोसायटी तैयार करने का काम कर रही थीं तो अकसर देरी से लौटती थीं। उस दौर में जब मुकेश अंबानी जल्दी आ जाते थे तो मेरा इंतजार करते थे और लौटने पर ही डिनर करते थे। इस दौरान वह बच्चों को होमवर्क कराया करते थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई






Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here