वॉशिंगटन41 मिनट पहले

इंडोनेशिया के जकार्ता में खाली ताबूत लेकर लोगों को महामारी के प्रति जागरूक करते प्रोटेक्टिव सूट पहने सरकारी कर्मचारी। देश में संक्रमण से 7343 लोगों की मौत हो चुकी है। – फाइल फोटो

  • दुनिया में 68 लाख से ज्यादा एक्टिव केस, अब तक 1.77 करोड़ ठीक हुए
  • अमेरिका में 61 लाख से ज्यादा संक्रमित, अब तक 1.87 लाख की जान गई

दुनिया में कोरोनावायरस के अब तक 2 करोड़ 54 लाख 14 हजार 924 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 77 लाख 24 हजार 73 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 8 लाख 51 हजार 92 लोगों की मौत हो चुकी है। अभी 68 लाख 39 हजार 759 मरीज ऐसे हैं, जिनका इलाज चल रहा है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

इंडोनेशिया में कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। देश के डॉक्टर्स एसोसिएशन के मुताबिक कोरोना मरीजों के इलाज में जुटे 100 डॉक्टरों की संक्रमण से मौत हो चुकी है। कई अस्पतालों ने चेतावनी दी है कि वे पूरी क्षमता से चल रहे हैं, उनके यहां अब जगह नहीं बची है। रविवार को देश में 2858 नए मामले आए। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अगस्त में संक्रमण बढ़ा है। पहले जकार्ता में बार और नाइटक्लब खोलने की तैयारी थी, लेकिन संक्रमण बढ़ने पर इसे रोक दिया गया है। देश में अब तक 1 लाख 72 हजार 53 लोग संक्रमित हो चुके हैं।

इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 6,175,008 187,227 3,425,814
ब्राजील 3,862,311 120,896 3,031,559
भारत 3,624,613 64,646 2,775,194
रूस 995,319 17,176 809,387
पेरू 647,166 28,788 4,55,457
साउथ अफ्रीका 6,25,056 14,028 5,38,604
कोलंबिया 6,07,938 19,364 4,50,621
मैक्सिको 5,95,841 64,158 4,12,580
स्पेन 4,55,621 29,011 उपलब्ध नहीं
चिली 4,09,974 11,244

3,82,584

अमेरिका: विशेषज्ञ बोले- वैक्सीन की दो डोज की जरूरत होगी
अमेरिका के विशेषज्ञों ने कहा है कि अगर कोरोना की वैक्सीन बनती है तो केवल एक डोज से काम नहीं चलेगा। लोगों को दो डोज की जरूरत पड़ेगी और यही सबसे बड़ी समस्या है। मौजूदा समय में ही टेस्टिंग किट, पीपीई किट और दूसरी जरूरी चीजों की कमी है। ऐसे में दो बार वैक्सीनेशन का प्रोग्राम चलाना बड़ा काम है।

टेनेसी के वैंडरबिल्ट यूनिवर्सिटी की हेल्थ पॉलिसी प्रोफेसर डॉ. केली मूर ने कहा कि यह मानव इतिहास का सबसे कठिन वैक्सीनेशन प्रोग्राम होगा। अमेरिका में वैक्सीन को मार्केट तक लाने के लिए ऑपरेशन वार्प स्पीड चल रहा है। इसके तहत छह फार्मास्यूटिकल कंपनी को रुपए दिए गए हैं। इनमें से दो कंपनी मॉडर्ना और फाइजर की वैक्सीन फेज-3 के ट्रायल पर हैं। दोनों कंपनी 30 हजार वॉलंटियरों को वैक्सीन की दो डोज दे रही हैं। मॉडर्ना 28 दिन के बाद तो फाइजर 21 दिन के बाद दूसरी डोज देगी।

अमेरिका के मैसाच्युसेट्स में गवर्नर के आदेश के खिलाफ प्रदर्शन करता तीन साल का बच्चा और उसके परिजन। यहां 30 साल से कम के सभी स्टूडेंट के लिए फ्लू का टीका लगाना जरूरी कर दिया गया है, इस फैसले का विरोध हो रहा है।

अमेरिका के मैसाच्युसेट्स में गवर्नर के आदेश के खिलाफ प्रदर्शन करता तीन साल का बच्चा और उसके परिजन। यहां 30 साल से कम के सभी स्टूडेंट के लिए फ्लू का टीका लगाना जरूरी कर दिया गया है, इस फैसले का विरोध हो रहा है।

चुनाव जीता तो ‘प्रेडिक्ट’ प्रोग्राम लॉन्च करूंगा: बाइडेन
अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन ने कहा है कि अगर वे चुनाव जीते तो कोविड-19 जैसी महामारी की पहले से ही पहचान के लिए एक बार फिर से ‘प्रेडिक्ट’ प्रोग्राम लॉन्च करेंगे। यह प्रोग्राम पहली बार 2005 में एच1एन1 फ्लू वायरस के समय लॉन्च किया गया था। इसमें जूनोटिक बीमारियों और वायरस के फैलने के बारे में रिसर्च की जाती है। 2019 में इसे बंद कर दिया गया था।

इजराइल: लैब्स कर्मचारी हड़ताल पर

इजराइल में सरकार से नाराज 400 लैब्स के 2,000 कर्मचारी हड़ताल पर हैं। देश में केवल गंभीर मरीजों, कैंसर और हार्ट के मरीजों की टेस्टिंग की जाएगी। कोरोना की टेस्टिंग भी चालू रहेगी, इसमें सिर्फ पॉजिटिव मिले लोगों का रिजल्ट बताया जाएगा। निगेटिव आने पर कोई रिजल्ट नहीं मिलेगा। देश में बीते 24 घंटे में संक्रमण के 555 नए मामले आए हैं। यहां कुल संक्रमितों की संख्या 1 लाख 14 हजार 20 और मरने वालों की संख्या 919 हो गई है।

  • इजराइल सरकार शहरों को संक्रमण के आधार रेड, ऑरेन्ज, येलो और ग्रीन जोन में बाटेंगी। हर शहर और कस्बे को नंबर भी दिए जाएंगे। जिस शहर को 7.5 नंबर से ज्यादा मिलेंगे उसे रेड जोन में रखा जाएगा।
इजराइल के यरूशलम में पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ प्रदर्शन करते लोगों को हटाती पुलिस। यहां संक्रमण के चलते लॉकडाउन के नियमों को सख्त किया गया है, लोग इसका विरोध कर रहे हैं।

इजराइल के यरूशलम में पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ प्रदर्शन करते लोगों को हटाती पुलिस। यहां संक्रमण के चलते लॉकडाउन के नियमों को सख्त किया गया है, लोग इसका विरोध कर रहे हैं।

ब्राजील: 24 घंटे में 366 मौतें
ब्राजील में रविवार को करोना से 366 लोगों की मौत हुई और 16 हजार 158 नए मामले आए। देश में संक्रमण के कुल मामले 38 लाख 62 हजार 311 हो गए हैं। अब तक एक लाख 20 हजार 896 लोगों की जान गई है। यहां साउ पोलो राज्य सबसे ज्यादा प्रभावित है। साउ पोलो में 8 लाख से ज्यादा संक्रमित हुए हैं और 29 हजार से ज्यादा की जान गई है। संक्रमण के मामले में इसके बाद रियो डि जेनेरियो है।

ब्राजील के नोवा गुएसु शहर में कोरोना से मौत के बाद शव को कब्रिस्तान में दफनाने ले जाते हेल्थ वर्कर्स। देश में 38 लाख से ज्यादा संक्रमित हैं।

ब्राजील के नोवा गुएसु शहर में कोरोना से मौत के बाद शव को कब्रिस्तान में दफनाने ले जाते हेल्थ वर्कर्स। देश में 38 लाख से ज्यादा संक्रमित हैं।

चीन: 24 मरीजों की अस्पताल से छुट्‌टी
चीन में 24 मरीजों की रविवार को अस्पतास ले छुट्‌टी हो गई। अब देश में केवल 237 मरीजों का इलाज चल रहा है, इसमें चार की हालत गंभीर है। शिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक अभी तक 80 हजार 177 लोगों का इलाज किया जा चुका है। देश में संक्रमण के कुल 85 हजार 31 मामले आ चुके हैं और 4634 लोगों की जान गई है।

0



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here