comScore
Spread the love



डिजिटल डेस्क। बेटी की शादी में पिता अपनी खुशी से पैसों से लेकर गाड़ी तक उपहार स्वरूप भेंट करता है। लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि दहेज में जहरीले सांप भी दिए जाते हैं। ये बात जानकर आपको हैरानी तो हो रही होगी, लेकिन यह सौ फीसदी सच है। इस प्रथा का चलन हमारे ही देश में मध्य प्रदेश के एक विशेष समुदाय में है। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से…

मध्य प्रदेश के गौरिया समुदाय के लोग अपने दामाद को दहेज में 21 जहरीले सांप देते हैं। इस समुदाय में यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। मान्यता है कि अगर इस समुदाय से जुड़ा कोई शख्स अपनी बेटी को शादी में सांप नहीं देता है, तो उसकी बेटी की शादी जल्दी ही टूट जाती है। कहते हैं कि बेटी की शादी तय होते ही पिता अपने दामाद को तोहफा देने के लिए सांप पकड़ना शुरू कर देते हैं। इनमें गेंहुअन जैसे जहरीले सांप भी होते हैं। यहां के बच्चों को भी उन जहरीले सांपों से डर नहीं लगता बल्कि वो उनके साथ आराम से खेलते नजर आते हैं।

दरअसल, इस समुदाय के लोगों का मुख्य पेशा सांप पकड़ना है और वो उन्हें लोगों को दिखाकर पैसा कमाते हैं। यही वजह है कि पिता अपनी दामाद को दहेज में सांप देता है, ताकि वो इन सांपों के जरिए कमाई कर सके और परिवार का पेट पाल सके। इस समुदाय में सांपों को सुरक्षित रखने के लिए कड़ा नियम भी बनाया गया है। कहते हैं कि अगर सांप इनके पिटारे में मर जाता है, तो पूरे परिवार के लोगों को मुंडन कराना पड़ता है। साथ ही समुदाय के सभी लोगों को भोज करना पड़ता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here