Thursday, May 13, 2021
Homeहेल्थ & फिटनेसbalanced and healthy diet in sehri-iftar

balanced and healthy diet in sehri-iftar


Ramadan 2021: रमजान में ऐसी रखें अपनी डाइट. Image/shutterstock

Ramadan 2021: रोजा रखने के दौरान सहरी (Sehri) और इफ्तार में अपनी डाइट (Diet) का पूरा ख्‍याल रखें. इसके लिए एनर्जी (Energy) से भरपूर चीजें लें और ज्‍यादा मीठी और नमक वाली चीजें खाने से बचें.

Ramadan 2021: रमजान का पाक महीना जल्‍द ही शुरू होने वाला है. इसका मुस्लिम समाज में खास महत्‍व है. इसमें महीने भर रोजे (Roza) रखे जाते हैं और अल्‍लाह की इबादत (Worship) की जाती है. रोजा रखने के लिए सुबह सूरज निकलने से पहले सहरी की जाती है और शाम को अजान के बाद इफ्तार किया जाता है. हालांकि इधर गर्मी भी तेजी से बढ़ रही है. इसलिए रोजा रखने के दौरान सहरी और इफ्तार में अपनी डाइट (Diet) का पूरा ख्‍याल रखना बहुत जरूरी है. ताकि रोजा आसानी से रखा जा सके और शरीर में पानी की कमी न हो. वरना डिहाइड्रेशन आदि अन्य समस्याएं सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकती हैं. रोजा में भी आपके शरीर में एजर्नी बनी रहे, इसके लिए अपनी डाइट में कुछ खास चीजें शामिल कर सकते हैं-

सहरी में जरूर लें दूध
सहरी में अपनी डाइट में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करें जो आपको दिन भर तरोताजा बनाए रखने के साथ शरीर को हाइड्रेटेड रखें. खाने के साथ एक गिलास ठंडा दूध या छाछ को जरूर शामिल करें. इससे आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होगी.

ज्‍यादा नमक वाली चीजें न खाएंरमजान में अपने आहार में दही और जूस को शामिल करें. साथ ही मौसमी फलों से इफ्तारी करें. वहीं ज्‍यादा तला-भुना खाने से बचें. इससे पाचन बिगड़ सकता है. सा‍थ ही ऐसा आहार लें जो जल्‍दी पच जाए. इसके अलावा इफ्तार या सहरी में ज्‍यादा नमक वाली चीजें खाने से परहेज करें. ज्‍यादा नमक प्यास बढ़ा सकता है.

ये भी पढ़ें – Ramadan 2021: इस तारीख से शुरू हो रहा है बरकतों का महीना रमजान

मौसमी फल जरूर लें
रमजान के महीने में कैफीनयुक्त पदार्थों जैसे चाय, कॉफी को कम कर दें. इसके अलावा अपनी डाइट में गर्मियों के फल जैसे तरबूज, नारियल पानी, खरबूजा, अनानास और आम को शामिल करें. साथ ही भरपूर नींद लें, ताकि आपको कमजोरी न सताए.

ज्‍यादा मीठा खाने से बचें
उर्दू वीओए की एक रिपोर्ट के मुताबिक सहरी में चक्‍की के आटे की रोटी ज्‍यादा बेहतर रहती है. दलिया भी लिया जा सकता है, इससे पेट देर तक भरा रहने का एहसास रहता है. वहीं मांस, मछली, चिकन और अंडे का उपयोग अपने स्वास्थ्य और बीमारी के मुताबिक किया जा सकता है. इसी तरह दूध और इससे बनी अन्‍य चीजों का भी उपयोग कर सकते हैं. इसके अलावा दिन भर के रोजे के बाद जब इफ्तार करें तो धीरे-धीरे खाएं और तले, मीठे खाद्य पदार्थों का सेवन कम करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments