Spread the love


दुबई3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

IPL-13 में गुरुवार रात खेले एक मैच में महेंद्र सिंह धोनी को केकेआर के वरुण चक्रवर्ती ने लगातार दूसरे मैच में बोल्ड किया। मैच के बाद दोनों की बातचीत का एक वीडियो वायरल हो रहा है।

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी गुरुवार रात एक बार फिर चर्चा में थे। केकेआर के खिलाफ जीत करने वाले चेन्नई के कप्तान धोनी ने मिस्ट्री स्पिनर कहे जाने वाले वरुण चक्रवर्ती से बातचीत की। खास बात ये है कि वरुण ने इस सीजन में धोनी के खिलाफ दो बार गेंदबाजी की और दोनों बार उन्हें बोल्ड किया। मैच के बाद धोनी ने वरुण को टिप्स दिए। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसके पहले भी इसी सीजन में धोनी यशस्वी जायसवाल और कुछ दूसरे प्लेयर्स से बातचीत करते नजर आए थे। चेन्नई के ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ भी धोनी के मुरीद नजर आए। उन्होंने कहा- धोनी ने मुश्किल हालात में मुस्कराना सिखाया।

इस सीजन में चक्रवर्ती 12 मैचों में 15 विकेट लिए

चक्रवर्ती ने गुरुवार को धोनी को 1 रन पर बोल्ड किया। इसके पहले भी उन्होंने धोनी को पिछले मैच में 11 रन पर आउट किया था। पहली बार धोनी का विकेट लेने के बाद वरुण ने उनके साथ फोटो ली थी। इस बार बातचीत और टिप्स लेते नजर आए। चक्रवर्ती ने पिछले हफ्ते दिल्ली के खिलाफ मैच में 20 रन देकर 5 विकेट लिए थे। वरुण को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर तीन टी-20 मैचों की सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया है। उन्होंने इस सीजन के 12 मैचों में 15 विकेट लिए हैं। पिछले साल 1 मैच में 1 विकेट लिया था।

ऋतुराज बोले- कोरोना ने मजबूत बनाया

चेन्नई के ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ ने गुरुवार रात केकेआर के खिलाफ 53 गेंद पर 72 रन बनाए। इस सीजन में दूसरा अर्धशतक लगाया। वे टूर्नामेंट शुरू होने से पहले कोरोना संक्रमित हो गए थे। गायकवाड़ ने कहा- कोरोना से निपटना कठिन था। अनुभव ने मजबूत बनाया। पहले तीन मैचों की नाकामी आत्मविश्वास को डिगा नहीं सकी। हमारे कप्तान ने हमेशा यही कहा कि कितनी भी बड़ी दिक्कत हो, चेहरे पर हमेशा मुस्कान रहना चाहिए। मैं यही करने की कोशिश करता रहा। ये आसान नहीं था। दो लगातार हाफ सेंचुरी लगाकर खुश हूं।

इस मामले में चेन्नई अव्वल

गुरुवार रात चेन्नई को केकेआर के खिलाफ जीत के लिए आखिरी ओवर की दो गेंदों पर 7 रन चाहिए थे। रविंद्र जडेजा ने लगातार दो छक्के लगाकर जीत दिलाई। चेन्नई ने आईपीएल में आखिरी गेंद पर रन बनाकर 6 बार मैच जीते। इसका मतलब ये है कि चेन्नई को आखिरी गेंद पर जीत के लिए जितने रन चाहिए थे, वो उसने सबसे ज्यादा (6 बार) बनाने में कामयाबी हासिल की। इस मामले में मुंबई इंडियंस को 5, राजस्थान रॉयल्स को 4 और किंग्स इलेवन पंजाब को 3 बार कामयाबी मिली।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here