ट्विटर इंडिया पर टॉप-1 में ट्रेंड हुआ #UPKiShaanYogiJi (File photo)

उत्तर प्रदेश समेत पूरे भारतवर्ष में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की लोकप्रियता निरन्तर बढ़ रही है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 15, 2020, 7:42 PM IST

लखनऊ. आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) पर उनका ही दांव भारी पड़ गया. मंगलवार सुबह उन्होंने दिल्ली में यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान क्या किया, तो विरोध में लोगों ने सोशल मीडिया पर उन्हें आड़े हाथों लिया और ट्विटर इंडिया पर हैशटैग #UPKiShaanYogiJi टॉप-1 पर ट्रेंड करता रहा.

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर तंज कसते हुए कहा कि दो करोड़ की आबादी वाली दिल्ली संभल नहीं रही, वहीं 24 करोड़ की आबादी वाले उत्तर प्रदेश को संभालने की बात करने वाली पार्टी मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रही है. उधर, कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने भी केजरीवाल पर पलटवार करते हुए सवालों की बौछार कर दी. उन्होंने कहा कि अब यूपी की जनता ही नहीं, दिल्ली की जनता में भी वह बेनकाब हो चुके हैं. पूर्वांचलियों पर आपने जो टिप्पणी की थी, उसके लिए आपने अभी तक माफी भी नहीं मांगी है. इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज फिर सोशल मीडिया पर छाए रहे.

आगरा: इंडियन ओवरसीज बैंक में 56 लाख रुपये की लूट, पुलिस ने की नाकेबंदी

उत्तर प्रदेश समेत पूरे भारतवर्ष में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता निरन्तर बढ़ रही है. बिहार विधानसभा चुनाव से लेकर हैदराबाद के निकाय चुनाव तक सीएम योगी आदित्यनाथ का बढ़ता प्रभाव हर तरफ देखा गया है. सीएम योगी की फायर ब्रांड और विकासपरक छवि ने सोशल मीडिया को भी बहुत गहराई से प्रभावित किया है, जिसकी एक बानगी मंगलवार को ट्विटर इंडिया पर एक बार फिर देखने को मिली.WHO ने की योगी सरकार की प्रशंसा
आज सुबह से शुरू हुई बयानबाजी के बाद ट्विटर इंडिया पर हैशटैग #UPKiShaanYogiJi टॉप-1 पर राष्ट्रीय स्तर पर ट्रेंड करता रहा. खबर लिखे जाने तक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समर्थन में 50 हजार से अधिक ट्वीट हो चुके थे. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद इस ट्रेंड के शीर्ष पर पहुंचने के कई राजनीतिक मायने हैं. सोशल मीडिया यूजर्स इस बात को लेकर लगातार ट्वीट कर रहे थे कि सबसे ज्यादा जनसंख्या होने के बाद भी कोरोना संकट में योगी सरकार ने जिस तरह से प्रदेश को संभाला, उसकी प्रशंसा विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की थी.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here