फोटो: सोशल मीडिया


फोटो: सोशल मीडिया

व्लादिमीर (Vladimir Volokhovich) के मोबाइल चोरी होने के बाद चोर ने उनके नाम पर अल्फा बैंक से लोन लिया. अब बैंक वाले उस लोन को वापिस चुकाने के लिए व्लादिमीर के पीछे पड़े हैं. बैंक वाले लोन को कैंसिल भी नहीं कर रहे हैं क्योंकि उनका कहना है कि व्लादिमीर को जल्द ही अपने फोन चोरी होने की सूचना दे देनी चाहिए थी.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 5, 2021, 12:51 PM IST

आज के वक्त में फोन चोरी हो जाना आम बात सी हो गई है. फोन के साथ लापरवाही लोगों को भारी पड़ जाती है. मगर फोन चोरी हो जाने से ज्यादा बड़ी मुसीबत उसमें मौजूद जानकारी और डाटा के चोरी होने की होती है. लोग कई तरह की मुश्किलों का सामना कर सकते हैं. ऐसा ही कुछ रूस (Russia) में एक व्यक्ति के साथ हुआ.

रूस में एक शख्स का स्मार्टफोन (Smartphone) चोरी हो गया था. इसके बाद चोर ने उसके नाम पर बैंक से प्री अप्रूव्ड लोन ले लिया. बैंक अब उससे लोन के पैसे मांग रहा है. यह एक तरह से बिल्कुल अनोखा मामला है, क्योंकि कोई भी चोर मोबाइल चुराने के बाद लोन भी लेले, ऐसा नहीं सुना गया है. ये मामला मॉस्को के व्लादिमीर वोलोकोविक (Vladimir Volokhovich) के साथ हुआ है.

व्लादिमीर के मोबाइल चोरी होने के बाद चोर ने उनके नाम पर अल्फा बैंक से लोन लिया. अब बैंक वाले उस लोन को वापिस चुकाने के लिए व्लादिमीर के पीछे पड़े हैं. बैंक वाले लोन को कैंसिल भी नहीं कर रहे हैं क्योंकि उनका कहना है कि व्लादिमीर को जल्द ही अपने फोन चोरी होने की सूचना दे देनी चाहिए थी.

20 हजार डॉलर का लिया लोनव्लादिमीर ने एक रेडियो को इंटरव्यू देते हुए कहा कि कुछ कारणों से मैं मोबाइल में मौजूद ऐप्स का एक्सेस नहीं रोक पाया. 24 घंटे से मैं बिना इंटरनेट के था. बाद में मेरे एक साथी ने बताया कि मेरा फोन मिल गया है और जिसने फोन ढूंढा है वो अगले दिन मुझे मिलने के लिए बुला रहा है. मगर ये एक चाल थी जिससे कि चोरों को पैसे निकालने का और वक्त मिल जाए. उन्होंने 20 हजार डॉलर का लोन मेरे नाम पर सिर्फ एक इलेक्ट्रोनिक सिग्नेचर की मदद से लिया. उन्होंने 1,900 डॉलर भी मेरे खाते से निकाल लिए. सवाल मेरे रुपयों का नहीं है. वो भी जरूरी थे मगर लोन तो मैंने लिया ही नहीं और अब मुझे वो चुकाने के लिए कहा जा रहा है. अगर मैं पांच सालों तक भी लोन देता रहूंगा तो उसका इंटिरेस्ट भी बढ़कर 4 हजार डॉलर तक पहुंच जाएगा.

व्लादिमीर ने लोन कैंसल करने की भी अर्जी बैंक में डाली थी मगर बैंक वालों ने मना कर दिया. बैंक के अनुसार उन्हें तत्काल प्रभाव से अपने बैंक को ये सूचित करना चाहिए था कि उनका फोन चोरी हो गया है.








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here