126 करोड़ रुपये में बिकी नंबर प्‍लेट.
Spread the love


126 करोड़ रुपये में बिकी नंबर प्‍लेट.

सिल्वरस्टोन ने इस नीलामी के बारे में अपने फेसबुक पेज पर जानकारी दी. फेसबुक पोस्ट में बताया गया कि हमारी ऑटोमोबिलिया सेल चल रही है और रजिस्ट्रेशन संख्या ‘O 10’ 128800 पौंड में बिक गई है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 17, 2020, 2:25 PM IST

नई दिल्‍ली. अक्सर कार या बाइक के लिए पसंदीदा नम्बर प्लेट के लिए लोगों को पैसे खर्च करते हुए देखा जाता है. इस तरह अब एक शख्स ने ‘O 10’ नाम की लाइसेंस प्लेट के लिए 126 करोड़ रुपये की भारी रकम खर्च की. इसके पीछे एक बड़ी वजह भी थी. अपने दादा को श्रद्धांजलि देने के उद्देश्य से इंग्लैंड में एक व्यक्ति ने इतनी बड़ी धन राशि खर्च की. इतने पैसे देकर यह प्लेट खरीदने की कहानी भी उसने बताई है.

Motori.com की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस शख्स ने बताया कि 1902 में बर्मिंघम में जब यह प्लेट जारी हुई तब इसे लेने वाले उनके दादा दसवें व्यक्ति थे. दादा का नाम चार्ल्स थॉम्पसन था और उनका जन्म 1874 में हुआ था. वे बर्मिंघम में ही स्टेशनरी के एक थोक व्यापारी थे. चार्ल्स के निधन के बाद उनका बेटा बैरी 1955 में प्लेट का मालिक बन गया. उन्हें भी ‘O 10’ प्लेट्स के साथ लगाव रहा.

2017 में बैरी का भी निधन हो गया और उनके परिवार को स्थानीय ड्राइवर्स और वाहन लाइसेंसिंग एजेंसी (DVLA) ने रिटेंशन सर्टिफिकेट जारी कर दिया. बैरी ने Austin A35, मिनी, Ford Cortina और Jaguar के लिए प्लेटों का इस्तेमाल किया था जो इस साल 13 नवंबर तक सक्रिय नहीं थी. इन्हें रिटेन करने की जरूरत थी.

126 करोड़ रुपये में खरीदी नंबर प्‍लेट. (Pic- Facebook)

इसके बाद एक सिल्वरस्टोन नीलामी में यह नम्बर प्लेट 126 करोड़ रुपये की बड़ी रकम में बेची गई. सिल्वरस्टोन ने इस नीलामी के बारे में अपने फेसबुक पेज पर जानकारी दी. फेसबुक पोस्ट में बताया गया कि हमारी ऑटोमोबिलिया सेल चल रही है और रजिस्ट्रेशन संख्या ‘O 10’ 128800 पौंड में बिक गई है. पोस्ट में यह भी कहा गया कि नम्बर प्लेट 1902 के बाद पहली बार बाजार में आई है. जिस व्यक्ति ने इतनी भारी रकम अदा की है, उसके बारे में जानकारी इस पोस्ट में नहीं दी गई है. यानी 100 साल से ज्यादा समय के बाद यह प्लेट बाजार में आई थी.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here