भारत में कोविड-19 मरीजों की संख्या 52 लाख के पार, रिकवरी रेट 78.86 फीसदी
Spread the love


नई दिल्ली: भारत में कोविड-19 के 96,424 नये मरीज सामने आने के साथ कुल संक्रमितों की संख्या 52 लाख के पार हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक शुक्रवार तक 41,12,551 मरीज ठीक भी हो चुके हैं. इस प्रकार देश में कोविड-19 में ठीक होने की दर 78.86 प्रतिशत है.

52 लाख के पार पहुंची कोरोना मरीजों की संख्या

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शुक्रवार सुबह 8 बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस से संक्रमित कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 52,14,677 हो गई है जबकि गत 24 घंटे में 1,174 और लोगों की मौत के साथ अबतक इस महामारी में 84,372 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

मृत्युदर दर में और गिरावट

आंकड़ों के मुताबिक कोविड-19 से होने वाले मौतों की दर में और गिरावट आई है और यह 1.62 प्रतिशत पर आ गई है. मंत्रालय ने बताया कि देश में 10,17,754 कोविड-19 मरीज उपचाराधीन है जो कुल संक्रमितों का 19.52 प्रतिशत है.

गौरतलब है कि भारत में सात अगस्त को कोविड-19 मरीजों की संख्या 20 लाख के पार हुई थी जबकि 23 अगस्त को कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 30 लाख के पार हो गई. देश में पांच सितंबर को संक्रमितों की संख्या 40 लाख हुई. वहीं, 16 सितंबर को देश में कोविड-19 मरीजों की संख्या 50 लाख के पार पहुंच गई.

आईसीएमआर के मुताबिक देश में 6 करोड़ से ज्यादा टेस्ट हुए

आईसीएमआर के मुताबिक देश में 17 सितंबर तक 6,15,72,343 नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 10,06,615 नमूनों की जांच अकेले गुरुवार को की गई. आंकड़ों के मुताबिक देश में अबतक 84,372 लोगों की कोविड-19 से मौत हुई है. इनमें महाराष्ट्र में 31,351, तमिलनाडु में 8,618, कर्नाटक में 7,629, आंध्र प्रदेश में 5,177, दिल्ली में 4,877, उत्तर प्रदेश में 4,771, पश्चिम बंगाल में 4,183,गुजरात में 3,270, पंजाब में 2,646, मध्यप्रदेश में 1,877 में हुई मौतें शामिल हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जोर देकर कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक लोगों की मौत अन्य गंभीर बीमारियों की वजह से हुई है. मंत्रालय ने कहा कि उसके आंकड़े का मिलान आईसीएमआर के आंकड़ों से किया गया है.

दिल्ली: कोविड मरीजों के लिए निजी अस्पतालों में बढ़े 500 आईसीयू बेड

कोरोना वायरसः जम्मू-कश्मीर में सामने आए कोरोना के 1,330 नए मामले, 60 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here