Spread the love


  • Hindi News
  • Sports
  • India Vs Australia Series Virat Kohli Rohit Sharma Steve Smith, David Warner Cheteshwar Pujara Glenn McGrath

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेलबर्न15 घंटे पहले

विराट कोहली ने 86 टेस्ट में 7240 रन बनाए हैं। रोहित शर्मा के नाम 32 टेस्ट में 2141 रन दर्ज हैं। -फाइल फोटो

भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पहुंच चुकी है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली एक टेस्ट के बाद पैटरनिटी लीव पर चले जाएंगे। वहीं, रोहित वनडे और टी-20 को छोड़कर टेस्ट सीरीज खेलने के लिए पहुंचेंगे। इसको लेकर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा ने कहा कि कोहली की गैरमौजूदगी में रोहित के पास खुद को साबित करने के लिए बड़ा मौका रहेगा।

टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 3-3 वनडे और टी-20 की सीरीज खेलना है। 27 नवंबर से वनडे और 4 दिसंबर से टी-20 सीरीज होनी है। इसके बाद 17 दिसंबर को 4 टेस्ट की सीरीज का पहला मैच खेला जाएगा।

कोहली के हटने से भारतीय टीम को नुकसान

कोहली के पैटरनिटी लीव पर जाने को लेकर मैक्ग्रा ने कहा- उन जैसे क्वालिटी और क्लास प्लेयर के हटने से भारतीय टीम को बड़ा नुकसान होगा। वे मैदान पर दोहरी भूमिका निभाते हैं। एक बल्लेबाज और दूसरे कप्तान के तौर पर मैदान पर ऊर्जा बनाए रखते हैं। स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर की वापसी से ऑस्ट्रेलिया मजबूत हुई है। ऐसे में हिसाब बराबर करने का मौका है।

पिछली बार भारत ने 2018 के आखिर में ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में टेस्ट सीरीज में 3-1 से करारी शिकस्त दी थी। तब स्मिथ और वॉर्नर बॉल टेम्परिंग के चलते प्रतिबंध झेल रहे थे। पुजारा ने 4 टेस्ट की सीरीज में 74.42 की औसत से 521 रन बनाए थे।

भारतीय बैटिंग लाइन अप मजबूत

मैक्ग्रा ने कहा- इस बार पुजारा के लिए ऑस्ट्रेलिया दौरा आसान नहीं होगा। वहीं, रोहित शर्मा एक क्वालिटी प्लेयर हैं। उन्होंने खुद को साबित भी किया है। जब कोहली घर लौट जाएंगे तब उनके पास मौका रहेगा। रोहित दिखा सकते हैं कि वे क्या कर सकते हैं। आप टीम इंडिया में एक ही खिलाड़ी पर फोकस नहीं कर सकते। उनकी बैटिंग लाइन अप काफी मजबूत है, जिसमें पुजारा, अजिंक्य रहाणे और लोकेश राहुल हैं।

पुजारा ने भारतीय गेंदबाजों को मजबूत बताया
दूसरी ओर पुजारा ने भारतीय गेंदबाजी को काफी मजबूत बताया। उन्होंने कहा कि हमारी बॉलिंग लाइन अप वही है, जो 2018 सीरीज में थी। सभी को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव है। भले ही ऑस्ट्रेलिया टीम में स्मिथ और वॉर्नर की वापसी हुई। उनके पास मार्नस लाबुशाने जैसे अच्छे खिलाड़ी भी हैं, लेकिन उनके लिए जीत आसान नहीं होगी। हमारे गेंदबाज उन्हें जल्दी पवेलियन भेजने की ताकत रखते हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here