Thursday, May 13, 2021
HomeMovie Reviewप्रियंका चोपड़ा ने बताया, पिता की मौत के बाद भगवान से उठ...

प्रियंका चोपड़ा ने बताया, पिता की मौत के बाद भगवान से उठ गया था विश्वास


अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा जोनास अकसर विवादों में घिरी रहती हैं। फिर चाहे मेट गाला में उनकी ड्रेस की वजह से हो या फिर महत्वपूर्ण राजनीतिक मुद्दों पर उनकी विवादास्पद टिप्पणियां। व्हाइट टाइगर स्टार पर आरोप लगते रहते हैं कि वह सुर्खियों को हथियाने के लिए कुछ ऐसा कहती रहती हैं।

अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा जोनास अकसर विवादों में घिरी रहती हैं। फिर चाहे मेट गाला में उनकी ड्रेस की वजह से हो या फिर महत्वपूर्ण राजनीतिक मुद्दों पर उनकी विवादास्पद टिप्पणियां। व्हाइट टाइगर स्टार पर आरोप लगते रहते हैं कि वह सुर्खियों को हथियाने के लिए कुछ ऐसा कहती रहती हैं। इस बार, टॉक शो होस्ट ओपरा विनफ्रे (Oprah Winfrey )के साथ उनके इंटरव्यू की कुछ क्लिप वायरल हो रही हैं। प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra)से पहले ओपरा विनफ्रे का मेगन मार्कले और प्रिंस हैरी के साथ आखिरी साक्षात्कार दुनिया भर में वायरल हुआ। प्रियंका चोपड़ा जोनास ने इस इंटरव्यू में कई विवादों पर बात करते हुए अपना पक्ष रखा। साथ ही उन्होंने अपनी जिंदगी के बारे में भी कई खुलासे किए। हाल ही में उनकी किताब भी पब्लिश हुई हैं, जिसके बारे में भी प्रियंका चोपड़ा ने ओपरा विनफ्रे से बात की। 

इसे भी पढ़ें: दिबाकर बनर्जी फिर से एकता कपूर के साथ मिलकर बनाने जा रहे हैं फिल्म LSD 2 

प्रियंका चोपड़ा ने अपने पिता के बारे में बात की

शनिवार को प्रतिष्ठित टॉक शो होस्ट ओपरा विनफ्रे के साथ अपने साक्षात्कार के दौरान, प्रियंका चोपड़ा ने अपने पिता स्वर्गीय डॉ अशोक चोपड़ा के बारे में बात की। कैंसर से पांच साल की लड़ाई के बाद जून 2013 मेंप्रियंका चोपड़ा के पिता का निधन हो गया था। पिछले कुछ वर्षों में, प्रियंका चोपड़ा कई मौकों पर उसे याद किया है और एक कलाई टैटू उन्हें समर्पित किया है। प्रियंका ने कहा कि वह अपने पिता को जीवन में चीयरलीडर के रूप में याद करती हैं। उन्होंने कहा कि मेरे पिता मेरी छोटी-छोटी खुशियों और जीत को लेकर उत्साहित होते थे। प्रियंका ने अपने पिता के बारे में कहा कि सबसे ज्यादा पापा को मुझ पर गर्व होता था। वह हमेशा छोटी-छोटी बातों पर मुझे अच्छा महसूस करवाते थे। वो मेरी हर बात का ध्यान रखते थे। फिर चाहे वो मेरे रात का खाना ही क्यों न हो। अगर मैंने सारा खाना खाया और मेरी थाली साफ है तो उनको खुशी होती थी कि मेरी बेटी ने पूरा खाना खा लिया। अगर मैंने कोई ऐसी ड्रेस पहनी है जो मुझे पसंद है, तो मेरे पिता को भी काफी खुशी होती थी। आज जो कुछ भी मैं हूं मैं अपने उसमें मेरे पिता की महत्वपूर्ण भूमिका रही हैं। उन्होंने मुझे शांति की भावना खोजने में मदद की है, जो मुझे कभी नहीं मिली। उन्होंने कहा कि वह हमेशा मुझसे शांति की भावना रखना चाहते थे। जब मैं उन्हें अपने आसपास महसूस करती हूं, जब मुझे शांति महसूस होती है।

इसे भी पढ़ें: करण जौहर ने रिलीज किया फिल्म ‘अजीब दास्तां’ का टीजर, नेटफ्लिक्स पर होगा प्रीमियर 

पिता के जाने के बाद भगवान से विश्वास उठ गया था

प्रियंका ने ओपरा को यह भी बताया कि उनके पिता के निधन के बाद उनके विश्वास पूरी तरह से टूट गया था। वह एक ट्रोमा था उन दौरान मुझे बहुत गुस्सा आता था। भगवान से विश्वास भी उठता जा रहा था। भगवान के साथ रिश्ता जीवन के उस मोड़ पर थोड़ा बदल गया था। लेकिन फिर उसी समय ऐसा भी मुझे लगता था कि ईश्वर ने मुझे उस दुख से बाहर आने में मदद की। वह समय मेरे लिए एक बहुत बड़ी चुनौती भरा था। उन्होंने यह भी कहा कि हमने अपने पिता का बेहतरीन इलाज करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। मैंने मंदिरों का दौरा किया, प्रार्थनाएं कीं, ‘हर धर्मगुरु या देवभूमि’ से मन्नत मांगी। उन्होंने कहा, “मैंने अपने पिता को सिंगापुर, न्यूयॉर्क, यूरोप, भारत, हर जगह, सिर्फ उनके जीवन को लम्बा करने के लिए उड़ान भरी। यह ऐसी असहाय भावना है।”

प्रियंका अपने पिता को खास मौकों पर याद करती हैं। उन्होंने अपनी किताब अनफिनिश्ड में भी उनके बारे में लिखा है। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments