भारत ने दूसरे टेस्ट के पहले ही सत्र में ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट झटक लिए.


भारत ने दूसरे टेस्ट के पहले ही सत्र में ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट झटक लिए.

भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट (IND vs AUS Boxing Day Test) में शानदार शुरुआत की है. उसने मैच के पहले ही दिन पहले ही सत्र में ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट झटक लिए हैं. इनमें से दो विकेट रविचंद्रन अश्विन और एक विकेट जसप्रीत बुमराह ने लिया. ऑस्ट्रेलिया ने 65 रन पर 3 विकेट गंवा दिए हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 26, 2020, 7:41 AM IST

नई दिल्ली. भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट (IND vs AUS Boxing Day Test) में शानदार शुरुआत की है. उसने मैच के पहले ही दिन पहले ही सत्र में ऑस्ट्रेलिया (Australia) के तीन विकेट झटक लिए हैं. इनमें से दो विकेट रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) और एक विकेट जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने लिया. पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर और जहीर खान ने इन दोनों खिलाड़ियों के साथ कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की खूब तारीफ की. मांजरेकर ने तो यह तक कह दिया कि खेल का पहला सेशन अजिंक्य रहाणे की कप्तानी के नाम कहा जा सकता है. यह दोनों टीमों के बीच सीरीज का दूसरा टेस्ट (IND vs AUS Second Test) है.

भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच दूसरा टेस्ट शनिवार को शुरू हुआ. ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग की. हालांकि, मेजबान टीम कम से कम पहले सेशन में मनमुताबिक बैटिंग नहीं कर सकी. उसने दो घंटे के खेल में 65 रन बनाए, लेकिन इस दौरान मैथ्यू वेड, जो बर्न्स और स्टीव स्मिथ के विकेट भी गंवा दिए. लंच ब्रेक से पहले सबसे ज्यादा 9 ओवर अश्विन ने किए. बुमराह ने 8, उमेश यादव ने 6 और रवींद्र जडेजा ने 4 ओवर गेंदबाजी की.

ऑस्ट्रेलिया दिमागी खेल खेलता रहे, हमारा फोकस अपनी टीम पर: अजिंक्य रहाणे

लंच ब्रेक के दौरान पूर्व क्रिकेटर और कॉमेंटेटर संजय मांजरेकर ने भारत के बेहतरीन प्रदर्शन का श्रेय कप्तान अजिंक्य रहाणे को दिया. उन्होंने मैच का प्रसारण कर रहे चैनल पर ब्रेक के दौरान कहा, ‘आमतौर पर जब पिच पर नमी हो और गेंद नई हो तो कप्तान तेजी गेंदबाजों को गेंद थमाते हैं. लेकिन अजिंक्य रहाणे ने इस मौके पर रविचंद्रन अश्विन से गेंदबाजी कराई. यह बड़ा फैसला था, जिसका भारत को पूरा फायदा मिला. इसके लिए मैं अजिंक्य को कह सकता हूं- वेलडन.’जहीर खान भी मांजरेकर से सहमत नजर आए. उन्होंने कहा, ‘रहाणे ने सेट प्लान के साथ कप्तानी नहीं की. वे गेम के साथ चले. परिस्थिति को समझा. हम जानते हैं कि स्पिनर भी पिच की नमी का फायदा उठा सकते हैं. अश्विन ने यह करके दिखाया. उन्होंने पहले भी यह करके दिखाया है. लेकिन अश्विन के साथ इसका श्रेय रहाणे की कप्तानी को देना होगा, जिन्होंने उन्हें यह मौका दिया.’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here