Spread the love


10 घंटे पहले

महेंद्र सिंह धोनी चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) टीम के कप्तान हैं। ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शेन वॉटसन भी सीएसके की ओर से खेलते हैं। -फाइल फोटो

  • कोरोना के कारण आईपीएल इस साल यूएई में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक खेला जाएगा
  • पहला मैच महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स का मुंबई इंडियंस से होगा

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इस 13वें सीजन में क्रिकेट को दो दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी और ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शेन वॉटसन पर सभी की नजरें लगी हैं। यह दोनों ही 39 की उम्र पार कर चुके हैं। धोनी चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) टीम के कप्तान हैं। वॉटसन भी सीएसके की ओर से खेलते हैं। ऐसे में दोनों प्लेयर साथ में नेट प्रैक्टिस में जमकर पसीना बहा रहे हैं।

इसको लेकर शेन वॉटसन ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें धोनी और वे नेट प्रैक्टिस करते दिख रहे हैं। इसके कैप्शन में लिखा- ‘‘39 साल दो उम्रदराज खिलाड़ी वही कर रहे हैं, जो हमें पसंद है।’’

39 की उम्र तक आते-आते कई क्रिकेटर रिटायरमेंट ले लेते हैं
हालांकि, असल जीवन में 39 साल का व्यक्ति बूढ़ा नहीं कहा जाता, लेकिन क्रिकेट जैसे खेल में यह उम्रदराज वाला पड़ाव ही माना जाता है। इस उम्र तक आते-आते कई प्लेयर संन्यास ले चुके होते हैं। वहीं, फिटनेस और फॉर्म अच्छी हो तो कई प्लेयर आगे भी खेलते हैं। जैसे- प्रवीण तांबे 48 की उम्र में भी क्रिकेट खेल रहे हैं। वहीं, सचिन तेंदुलकर ने भी नवंबर 2013 में 39 की उम्र में रिटायरमेंट ले लिया था।

इमरान ताहिर इस बार आईपीएल में सबसे उम्रदराज प्लेयर
इन दो दिग्गजों के अलावा सीएसके में दक्षिण अफ्रीकी स्पिनर इमरान ताहिर भी खेल रहे हैं, जिनकी उम्र 41 हो गई है। इस आईपीएल के ये सबसे उम्रदराज प्लेयर भी हैं। इनके अलावा किंग्स इलेवन पंजाब में क्रिस गेल (40), दिल्ली कैपिटल्स में अमित मिश्रा (37) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) में डेल स्टेन (37) भी उम्र के आखिरी पड़ाव पर खेल रहे हैं।

3 बार खिताब जीत चुकी चेन्नई टीम इस बार भी प्रबल दावेदार
कोरोना के कारण इस बार आईपीएल 19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में होगा। पहला मैच सीएसके और मुंबई इंडियंस के बीच खेला जाएगा। धोनी की कप्तानी में चेन्नई ने 3 बार खिताब जीता है। इस बार भी टीम को प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

धोनी ने टूर्नामेंट में 4432 और वॉटसन ने 3575 रन बनाए
आईपीएल में धोनी ने 190 मैच में 42.21 की औसत से 4432 रन बनाए। वे टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 9 बार फाइनल खेलने वाले अकेले खिलाड़ी हैं। विकेटकीपर धोनी ने आईपीएल में सबसे ज्यादा 132 खिलाड़ियों को आउट किया। इस दौरान उन्होंने विकेट के पीछ 94 कैच लिए और 38 स्टंपिंग की। वहीं, आईपीएल में वॉटसन ने 134 मैच में 31.09 की औसत से 3575 रन बनाए और 92 विकेट लिए हैं।

0



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here