Spread the love


अपहरणकर्ताओं के चंगुल से आजाद होने के बाद पुलिस के साथ अपहृत लोहा कारोबारी आदेश जैन

एडीजी ने बताया कि इस अपहरणकांड (Kidnapping) में बदमाशों की दो टीम शामिल थी. एक टीम ने व्यापारी का अपहरण किया, जबकि दूसरी टीम उन्हें लेकर दिल्ली जा रही थी.

बागपत. यूपी के बागपत जिले के बड़ौत में लोहा व्यापारी के अपहरण (Kidnapping) का पुलिस ने मात्र 7 घंटे में खुलासा कर दिया. मेरठ के एडीजी राजीव सभरवाल ने बागपत पहुंचकर इस अपहरणकांड से पर्दा उठाया. एडीजी ने बताया कि बदमाश व्यापारी को दिल्ली की तरफ लेकर जा रहे थे. लेकिन ड्रोन की मदद से पुलिस ने बदमाशों को घेर लिया. जिसके बाद गिरफ्तारी के डर से बदमाश व्यापारी को छोड़कर फरार हो गए और पुलिस ने अपहृत व्यापारी को सकुशल बरामद कर लिया.

एडीजी का कहना है कि जल्द ही पुलिस बदमाशों को भी गिरफ्तार कर लेगी. बतौर एडीजी पुलिस की सतर्कता के कारण व्यापारी की सकुशल रिहाई हुई. पुलिस ने बागपत की सीमाएं सील कर सघन चेकिंग अभियान चल रहा था. उसी से बदमाश घबरा गए और व्यापारी को छोड़ने पर मजबूर हो गए.

एडीजी की माने तो इस अपहरणकांड में बदमाशों की दो टीम शामिल थी. एक टीम ने व्यापारी का अपहरण किया, जबकि दूसरी टीम उन्हें लेकर दिल्ली जा रही थी. इसमें शामिल बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है.

अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छूटे व्यापारी आदेश जैन ने बताया कि सुबह कार सवार तीन बदमाशों ने उनका अपहरण कर लिया. और दिल्ली की ओर लेकर जा रहे थे. बदमाशों ने रास्ते में उन्हें पानी भी पिलाया. फिर उनके परिवार से एक करोड़ रुपए की फिरौती मांगी. जिसके बाद परिजनों ने पुलिस को घटना की सूचना दी.सूचना मिलते ही पुलिस जनपद की सीमाएं सील करते हुए सघन चेकिंग अभियान शुरू किया. पुलिस की 8 टीमें ड्रोन कैमरे की मदद से गन्ने के खेतों में बदमाशों को तलाश में जुटी. पुलिस के इस एक्शन से बदमाश मजबूर हो गए और व्यापारी को जंगल में छोड़कर भाग गये. जिसके बाद पुलिस ने व्यापारी को सकुशल बरामद कर लिया.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here