Friday, July 23, 2021
HomeSportsडिएगो माराडोना का इलाज करने वाली मेडिकल टीम पर लगे हत्या के...

डिएगो माराडोना का इलाज करने वाली मेडिकल टीम पर लगे हत्या के आरोप, हो सकती है जेल


डिएगो माराडोना का 60 साल की उम्र में निधन हो गया था. (Instagram)

मेडिकल बोर्ड की ओर से तैयार की गई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अर्जेंटीना के दिग्गज डिएगो माराडोना (Diego Maradona) करीब 12 घंटे तक परेशानी में रहे और उन्हें पर्याप्त इलाज नहीं मिला. उनके मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी लेकिन दो सप्ताह के बाद उनकी मौत हो गई.

नई दिल्ली. दुनिया के महान फुटबॉलरों में शुमार रहे डिएगो माराडोना (Diego Maradona) का इलाज करने वाली टीम को जेल की सजा हो सकती है. अर्जेंटीना के इस दिग्गज फुटबॉलर का पिछले साल नवंबर में निधन हो गया था. उनके मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी लेकिन दो सप्ताह के बाद उनकी मौत हो गई. अब सरकारी वकील ने उनका इलाज करने वाली टीम के खिलाफ हत्या का आरोप लगाया है. ला नेसियन की रिपोर्ट के मुताबिक, माराडोना के निजी चिकित्सक लियोपोल्डो ल्यूक, मनोचिकित्सक अगस्टिना कोसाचोव और कई नर्सों के खिलाफ हत्या के आरोप लगाए गए हैं. मेडिकल बोर्ड की ओर से तैयार की गई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बार्सिलोना का यह पूर्व फुटबॉलर करीब 12 घंटे तक परेशानी में रहा और उन्हें पर्याप्त इलाज नहीं मिला. इसे भी पढ़ें, यूरो-2020 में पुर्तगाल की कप्तानी करेंगे स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो इसमें यह भी कहा गया है कि माराडोना आज भी जिंदा होते, यदि उनका सही से इलाज किया जाता. इस रिपोर्ट को वकीलों को इसी महीने भेजा गया था. माराडोना 1986 में वर्ल्ड कप जीतने वाली अर्जेंटीनी टीम का हिस्सा रहे थे. उन्होंने कई टीमों को कोचिंग भी दी. वह 60 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह गए.यदि इन पर दोष साबित हो जाता है तो सभी आरोपियों को आठ से 25 साल की जेल की सजा सुनाई जा सकती है. रिपोर्ट के मुताबिक, सात लोगों को तो देश छोड़ने तक की अनुमति नहीं है और उन्हें मई के अंत में अपना बयान देना होगा. जब माराडोना का निधन हुआ था, तब उनके वकील मातियास मोरिया ने ट्वीट किया था- एंबुलेंस को करीब आधा घंटा पहुंचने में लगा जो एक अपराध की श्रेणी में आता है.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments