अपने खाने की टाइमिंग का ध्यान रखना बेहद जरूरी है और खाने के बीच बहुत ज्यादा लंबा गैप नहीं होना चाहिए.
Spread the love


इंटरनैशनल डायबिटीज फेडरेशन की मानें तो इस वक्त दुनियाभर में करीब 463 मिलियन लोग ऐसे हैं जो टाइप 1 और टाइप 2 इन दोनों ही प्रकार के डायबिटीज (Diabetes) से पीड़ित हैं यानी करीब 8 प्रतिशत से अधिक की आबादी इस बीमारी की चपेट में है. भारत की बात करें साल 2020 में भारत में डायबिटीज के मरीजों की संख्या 77 मिलियन यानी करीब 7 करोड़ 70 लाख के आसपास है. अब जब इतनी बड़ी संख्या में लोग डायबिटीज के शिकार हो रहे हैं तो लोगों के बीच इस बीमारी को लेकर जागरुकता फैलाना भी जरूरी है. इसी जरूरत को ध्यान में रखते हुए हर साल 14 नवंबर को वर्ल्ड डायबिटीज डे (World Diabetes Day) मनाया जाता है.

खानपान में लापरवाही से हो सकती है समस्या
इसे एक संयोग ही कहा जाएगा कि इस साल दिवाली का त्योहार वर्ल्ड डायबिटीज डे के दिन यानी 14 नवंबर को मनाया जा रहा है. दिवाली यानी चारों तरफ रोशनी, दीए, खुशियां , खूब सारी मिठाइयां और कैलोरीज से भरपूर खाने का त्योहार. अब जब साल का सबसे बड़ा त्योहार सामने हो तो भला कोई खुद पर कंट्रोल कैसे रख पाए. लेकिन डायबिटीज के मरीजों के लिए इस दौरान भी सेल्फ-कंट्रोल बेहद जरूरी है क्योंकि खानपान में एक दिन की गई जरा सी लापरवाही अगले दिन उनके लिए परेशानी का सबब बन सकती है.न्यूट्रिशनिस्ट से जानें दिवाली डाइट के बारे में

डायबिटीज के मरीज दिवाली के दौरान किस हद तक चीट डाइट कर सकते हैं, या फिर थोड़ी बहुत मिठाई खा सकते हैं, यह पूरी तरह से इस बात पर निर्भर करता है कि उनकी सेहत कैसी है और ब्लड शुगर लेवल कैसा है. अगर डायबिटीज के मरीज नियमित रूप से परहेज कर रहे हैं, रोजाना एक्सरसाइज कर रहे हैं, दवाइयां टाइम पर ले रहे हैं और उनका ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल में है तो वे सीमित मात्रा में कुछ चीजें जरूर खा सकते हैं. लेकिन क्या खाना है और क्या नहीं, इस बारे में हमने बात की माइ उपचार से जुड़ीं न्यूट्रिशनिस्ट और वेलनेस एक्सपर्ट आकांक्षा मिश्रा से…

त्योहार की खुशियां के बीच डायबिटीज के मरीज इन बातों का रखें ध्यान

  • अपने खाने की टाइमिंग का ध्यान रखना बेहद जरूरी है और खाने के बीच बहुत ज्यादा लंबा गैप नहीं होना चाहिए वरना हाइपोग्लाइसीमिया यानी लो ब्लड शुगर लेवल की समस्या हो सकती है.
  • हाइपरग्लाइसीमिया यानी हाई ब्लड शुगर लेवल की समस्या से बचने के लिए अपनी दवाइयां समय पर लेते रहें.
  • अपने ब्लड शुगर लेवल की नियमित रूप से जांच करते रहें.
  • कई बार हम खाने के बीच में या फिर अब जब सर्दियां शुरू हो गई हैं पानी को भूल जाते हैं. लेकिन ऐसा न करें और शरीर में पानी की कमी न होने दें. इसके लिए नियमित रूप से पानी या तरल पदार्थो का सेवन करें. लेकिन डायबिटीज के मरीज किसी भी कीमत पर चीनी वाली मीठी ड्रिंक्स से बचें.
  • मौका भले ही त्योहार का हो लेकिन आपको अपनी सेहत का ध्यान पहले रखना है, इसलिए आप रोजाना जिस तरह के मील का सेवन करते हैं त्योहार के दिन भी कोशिश करें कि उसके पैटर्न में ज्यादा बदलाव न करना पड़े.
  • सबसे अहम है पोर्शन साइज यानी आप क्या खा रहे हैं इसका ध्यान रखना तो जरूरी है ही लेकिन कितना खा रहे हैं यह भी महत्वपूर्ण है. लिहाजा किसी भी चीज की अति न करें.

डायबिटीज के मरीज दिवाली पर क्या खाएं और क्या नहीं
1. चीनी की जगह नैचरल स्वीटनर का इस्तेमाल करें

अब मौका है दिवाली का है तो मुंह मीठा न किया जाए ये कैसे हो सकता है. लेकिन डायबिटीज के मरीजों को इस बात का ध्यान रखना है कि वे चीनी वाली मिठाइयों से बिलकुल दूर रहें. इसलिए बेहतर यही होगा कि आप घर पर ही शुगर-फ्री मिठाई बनाएं या फिर अपनी मिठाई को मीठा स्वाद देने के लिए उसमें खजूर, किशमिश, अंजीर जैसे मीठे फलों का इस्तेमाल करें. ऐसा करने से आपका मुंह भी मीठा हो जाएगा और सेहत को भी नुकसान नहीं होगा.

2. फल और सलाद का सेवन करें
अगर डायबिटीज के मरीज का ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में है तो वे फल या सब्जी से बनने वाली मिठाई का थोड़ा सा हिस्सा खा सकते हैं और इन मिठाइयों को बनाने में स्टीविया का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन सिर्फ तभी जब उनका शुगर लेवल कंट्रोल में हो. इसके अलावा दूसरों को मीठा खाते देख अगर आपको भी मीठा खाने की क्रेविंग हो रही हो तो 2 मील के बीच में फलों का सेवन करें या फिर भोजन करने से पहले सलाद खा लें.

3. बादाम और अखरोट खाएं
बादाम और अखरोट 2 ऐसे नट्स हैं जो डायबिटीज के मरीजों के लिए बेस्ट ऑप्शन माना जाता है. विटामिन ई और ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर इन नट्स में हेल्दी फैट्स होता है जो आपका पेट भरने के साथ ही शरीर को किसी तरह का नुकसान भी नहीं पहुंचाता है. आप चाहें तो स्नैक्स के तौर पर इन नट्स का सेवन कर सकते हैं. इसके अलावा डायबिटीज के मरीज प्लेन पॉपकॉन, मखाना, नॉन-फ्राइड नमकीन आदि का सेवन कर सकते हैं.

4. खाना ही नहीं ड्रिंक्स का भी रखें ध्यान
चीनी से भरपूर फिज वाली शुगरी ड्रिंक्स, कोल्ड ड्रिंक, फ्रूट जूस या फिर अल्कोहल वाली ड्रिंक्स डायबिटीज के मरीजों के लिए ठीक नहीं है क्योंकि ज्यादा अल्कोहल का सेवन भी ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है. लिहाजा बेहतर यही होगा कि आप नारियरल पानी, नींबू पानी या लेमेनेड पिएं.

5. तली-भुनी चीजों से करें परहेज
मौका दिवाली के त्योहार का है तो जाहिर सी बात है घर में समोसे, कचौड़ी, पकौड़े जैसे तले-भुने स्नैक्स भी मेहमानों के लिए जरूर बनेंगे लेकिन डायबिटीज के मरीजों को इनसे पूरी तरह से दूर ही रहना है. हाई कैलोरी और ऑयली खाद्य पदार्थ आपके शुगर लेवल को बढ़ाने का काम करेंगे. लिहाजा इन चीजों के साथ ही बेकरी फूड्स जैसे- बिस्किट, केक और चॉकलेट्स आदि के सेवन से भी बचें. इसकी जगह हाई फाइबर और लो कार्बोहाइड्रेट वाली चीजों को डाइट में शामिल करें.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल डायबिटीज डाइट चार्ट के बारे में पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here