चीन ने WHO की कोरोना जांच टीम को देश में घुसने की इजाजत नहीं दी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

WHO Team Didn’t allow to Enter China: चीन की दादागिरी का एक नमूना दुनिया के सामने फिर से पेश हुआ है. चीन विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) की जांच टीम अपने देश में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी है. डब्ल्यूएचओ की टीम चीन में कोरोनावायरस (Coronavirus) संबंधित जांच के लिए प्रवेश की अनुमति मांग रही थी.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 6, 2021, 11:45 PM IST

बीजिंग. चीन की दादागिरी का एक नमूना दुनिया के सामने फिर से पेश हुआ है. चीन विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (World Health Organisation) की जांच टीम अपने देश में प्रवेश करने की अनुमति (Not Allowed to Enter in China) नहीं दी है. डब्ल्यूएचओ की टीम चीन में कोरोनावायरस (Coronavirus) संबंधित जांच के लिए प्रवेश की अनुमति मांग रही थी. चीन पर कोरोनावायरस संबंधी तथ्यों को छिपाने का आरोप लगता रहा है. पिछले दिनों चीन रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के शोधकर्ताओं ने भी चीनी सरकार पर यह आरोप लगाया था कि वुहान में कोरोना संक्रमण के मामले छिपाए गए थे.

चीनी शोधकर्ताओं का कहना था कि वुहान की आबादी लगभग 1 करोड़ 10 लाख है इसलिए अध्ययन के अनुसार वुहान में लगभग 5 लाख लोगों को कोरोना संक्रमण हो सकता है. हालांकि वुहान में सिर्फ 50,354 आधिकारिक मामलों की तुलना में लगभग 10 गुना अधिक है.

चीन के इस रवैये से टेड्रोस हुए निराश

इसके उलट चीन यह दावा करता रहा है कि कोरोनावायरस का संक्रमण उनके यहां से दुनिया में नहीं फैला है. डब्‍ल्‍यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अधानोम घेब्रेयेसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने कहा है कि चीन के अधिकारियों ने विशेषज्ञों के दल को आने की अनुमति नहीं दी है और वह इससे ‘निराश’ हैं. टेड्रोस ने कहा कि कोरोनावायरस प्रकोप फैलने के एक साल बाद डब्‍ल्‍यूएचओ के विशेषज्ञों की टीम को चीन आना था ताकि इस महामारी के स्रोत के बारे में पता लगाया जा सके. इस यात्रा पर दुनियाभर की नजर थी.

ये भी पढ़ें: PAK: सुप्रीम कोर्ट ने हिंदू मंदिर के पुर्ननिर्माण का दिया आदेश, मौलवी से वसूली जाएगी राशि

मरियम नवाज ने PM इमरान खान से कहा- 31 जनवरी तक गद्दी छोड़ दें, अन्यथा जनता लेगी फैसले

अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत कई देशों के नेताओं ने चीन पर कोरोनावायरस से जुड़ी जानकारी छिपाने का आरोप लगाया था. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि चीन ने पहले 10 लोगों के विशेषज्ञों के जांच दल को अनुमति दी थी जो इस सप्‍ताह चीन आने वाले थे. संगठन ने कहा कि अभी ज्‍यादातर विशेषज्ञों ने अपनी यात्रा शुरू भी नहीं की थी कि उन्‍हें संकटों का सामना करना पड़ गया. चीन जांच टीम को अपने यहां आने की अनुमति नहीं दे रहा है.








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here