लाल मिर्च रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के साथ-साथ सूजन को भी कम करने में मदद करती है.
Spread the love


लाल मिर्च रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के साथ-साथ सूजन को भी कम करने में मदद करती है.

लाल मिर्च (Red Chili) का अधिक सेवन करने से बीमारियों का एक चौथाई जोखिम कम हो जाता है. वैज्ञानिकों (Scientist) ने लाल मिर्च में मौजूद उसके तेज और तीखें गुणों को शरीर के लिए लाभदायक बताया है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 15, 2020, 9:25 AM IST

कई लोग तेज मिर्च की जगह कम मिर्च-मसाले वाली डाइट लेना पसंद करते हैं. एक अध्ययन के मुताबिक लाल मिर्च (Red Chili Peppers) के नियमित सेवन से उम्र लंबी होती है और इससे असमय मृत्‍यु  (Premature Death) होने का भी खतरा कम हो जाता है. अध्ययन के मुताबिक जो लोग लाल मिर्च का अधिक सेवन करते हैं उनमें बीमारियों का एक चौथाई जोखिम कम हो जाता है. वैज्ञानिकों (Scientist) ने लाल मिर्च में मौजूद इसके तेज और तीखें गुणों को शरीर के लिए लाभदायक बताया है.

शरीर में शर्करा के स्तर को करती नियंत्रित
वैज्ञानिकों के मुताबिक लाल मिर्च रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने और ट्यूमर के साथ-साथ सूजन को भी कम करने में मदद करती है. यह अध्ययन वैश्विक स्तर पर लगभग 57 हजार लोगों के स्वास्थ्य और आहार रिकॉर्ड के आधार पर किया गया है, लेकिन स्वेच्छा से सूचना के आधार पर किसी भी अन्य अध्ययन की तरह इसमें परिणाम अनैच्छिक मिले हैं. क्योंकि अधिक व्यक्तिगत अध्ययन करने वाले शोधकर्ताओं को यह स्थापित करने की आवश्यकता है कि मिर्च की कौन सी किस्में इस तरह की सुरक्षा प्रदान करती हैं या कितनी मात्रा में खपत करें जो शरीर के लिए लाभकारी हो.

ये भी पढ़ें – बच्‍चों में होने वाली जन्‍मजात बीमारी है स्पाइना बाइफिडा‘डेली मेल’ के मुताबिक शोधकर्ताओं ने कहा कि वे संभवत इस लॉकडाउन का उपयोग अधिक मिर्च खाने की आदत को बढ़ाने के लिए कर सकते हैं. लॉकडाउन के कारण अधिकतर लोग घर पर ही खाना बना रहे हैं और हृदय विशेषज्ञों का मानना है कि मसाले और मिर्च के साथ प्रयोग करने और स्वस्थ भोजन की आदत में शामिल होने का यह एक अच्छा समय है.

ये भी पढ़ें – पालतू पशुओं से भी बनाएं सोशल डिस्टेंसिंग, फैल सकता है कोरोना: स्टडी

खाने का बढ़ रहा स्वाद
वैज्ञानिकों ने यह भी बताया कि खाने में ताजा-सूखी और काली मिर्च स्वाद को भी बढ़ा रही है और साथ ही नमक की खपत को कम रही है. वैज्ञानिकों के मुताबिक अत्यधिक नमक का सेवन रक्तचाप और हृदय विकारों का कारण बनता है. लेकिन वैज्ञानिकों ने रेडीमेड चिली सॉस और मिश्रित मसालों का सेवन न करने की सलाह दी है. उनका कहना है कि इनमें सोडियम की मात्रा अधिक होती है जो स्वास्थ्य के लिहाज से उचित नहीं है. अधययन के प्रमुख लेखक ने कहा, ‘लाल मिर्च का नियमित सेवन शरीर में कई बीमारियों जैसे हृदय और कैंसर के जोखिम को कम कर सकता है.’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here