Spread the love


एक पालतू तोते ने अपने मालिक की जान बचा ली (सांकेतिक फोटो, News18)

यह घटना क्वींसलैंड (Queensland) के ब्रिस्बेन में हुई. स्मोक डिटेक्टर (Smoke Ditector) बजने से पहले ही एंटन गुयेन के तोते एरिक (Parrot Eric) ने उन्हें चिल्ला-चिल्ला कर जगा दिया, जब वे गहरी नींद (deep sleep) में सो रहे थे.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 5, 2020, 9:12 PM IST

अक्सर वास्तविकता (reality) कल्पनालोक की कहानियों (fiction) से बिल्कुल अलग होती है. लेकिन कई बार वास्तविक घटनाएं काल्पनिक दुनिया को भी मात दे देती हैं. लोग अक्सर ये सोचकर जानवरों और पक्षियों (Animals and Birds) को पालते हैं कि वह उनके दिल बहलाने के साथ बाहरी खतरों के प्रति उन्हें सचेत भी करेगा. लेकिन कई बार देखा जाता है कि पेट्स (pets) इसमें बहुत मददगार नहीं होते. लेकिन कई बार ऐसी कहानियां भी सामने आती हैं, जब पालतू पशु या पक्षी वाकई कोई महान कारनामा कर देते हैं. ऐसा ही एक कारनामा तब हुआ जब एक पालतू तोते (pet parrot) ने अपने मालिक की जान बचा ली. दरअसल ऑस्ट्रेलिया (Australia) में इस पक्षी ने घर में आग लगने के बाद अपने मालिक के लिए जीवनरक्षक (saviour) का काम किया.

एबीसी समाचार के अनुसार, यह घटना क्वींसलैंड (Queensland) के ब्रिस्बेन में हुई. स्मोक डिटेक्टर (Smoke Ditector) बजने से पहले ही एंटन गुयेन के तोते एरिक (Parrot Eric) ने उन्हें चिल्ला-चिल्ला कर जगा दिया, जब वे गहरी नींद (deep sleep) में सो रहे थे. हालांकि इसके बाद जब तक बचाव दल आया, तब तक कंगारू प्वाइंट के सालस्टोन स्ट्रीट में स्थित उनका घर पूरी तरह से आग की लपटों में घिर चुका (engulfed in flames) था.

आग के फैलने से पहले ही जगाकर बचाई जान
एंटन के अनुसार वह सो रहा थे, लेकिन तब जग गये जब उन्होंने एक धमाके की आवाज सुनी और उनका तोता चिल्लाने लगा. तभी उन्हें कुछ धुआं महसूस हुआ. उन्होंने तुरंत अगला कदम उठाया. उन्होंने तुरंत अपने तोते एरिक को लिया घर छोड़ने के लिए तैयार हो गये. इसी दौरान उन्होंने देखा कि घर में एक ओर तेज आग की लपटें निकल रही हैं. उन्होंने तेजी से एरिक और एक बैग के साथ घर छोड़ दिया.एंटन उस समय सदमे में आ गये, जब उन्हें यह महसूस हुआ कि घर के स्मोक डिटेक्टर आग पूरी फैलने के बाद बजने शुरू हुए, जबकि तोते एरिक ने उन्हें इससे पहले ही सतर्क कर दिया था. जिससे उनकी जान बच सकी थी. इस तोते के चलते घटना में कोई घायल तक नहीं हुआ क्योंकि आग फैलने से पहले ही तोता और उसका मालिक दोनों घर से चले गए थे. एंटन का मानना ​​है कि तब तक बाकी सब नुकसान सहा जा सकता है, जब तक वह और उनका तोता ठीक है.

अधिकारियों ने भी माना तोते ने बचाई मालिक की जान
इस मामले में आग नियंत्रण विभाग के कर्मियों की भी तेज कार्रवाई के बारे में बताते हुए क्यूएफईएस के कार्य निरीक्षक कैम थॉमस ने कहा कि अग्निशमन दल ने आग पर नियंत्रण करने के दौरान सिर्फ एक संपत्ति को नुकसान हुआ. उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा तोते के चलते हुआ, जिसने “एंटन, एंटन” चीख़कर आग लगने के समय सो रहे आदमी को जगाया.

यह भी पढ़ें: आधी नर-आधी मादा है ये अनोखी चिड़िया, बायें ओर बड़े पंख, दाहिनी ओर अंडाशय

आग एक बड़े पैमाने पर थी और कैम के अनुसार, इसने पूरी इमारत को घेर लिया था. उन्होंने बताया कि यह इमारत के बाहरी हिस्से का कुछ भाग जलने के अलावा बाईं ओर कुछ भाग जला है. अधिकारियों ने इस इमारत को एक अपराध स्थल भी घोषित किया है. उनका मानना है यह आग साजिश के तहत लगाई गई. उन्होंने इमारत में लगी आग के कारणों की जांच शुरू कर दी है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here