Spread the love


समारा (रूस). रूस (Russia) में कोरोना से मरने वालों के आधिकारिक आंकड़े को प्रशासन छुपा रहा है. हाल ही में एक जब एक पूर्व रशियन मॉडल (Former Russian Model) के पिता की मौत कोरोना से हुई, तो उसने शवगृह (Mortuary) को लाशों से भरा हुआ देखा. जबकि प्रशासन का दावा है कि रूस की समारा सिटी (Samara City) में सिर्फ 7 लोगों की मौत कोरोना से हुई है. हालांकि इस मॉडल ने देखा कि कई डेड बॉडी (Dead Body) वहीं पड़ी हुई हैं. मॉडल ने जो देखा उसे उस पर विश्वास नहीं हुआ, इसलिए उसने तुरंत इस शवकक्ष का एक वीडियो बना लिया. अब यह वीडियो वायरल (Viral Video) हो रहा है. स्टाफ ने भी बताया कि अब तक 50 से ज्यादा लोग उस छोटे से शहर में कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से जान गंवा चुके हैं. इस वीडियो की अब दुनिया भर में चर्चा की जा रही है और रूस पर सवाल उठ रहे हैं कि क्या रूस, देश में कोविड-19 (Covid-19) से मरने वालों के आंकड़े छिपा रहा है?

दरअसल इस पूर्व रूसी ब्यूटी क्वीन (Beauty Queen) ने एक मुर्दाघर में लाशों के ढेर लगे होने का वीडियो फिल्मा लिया. उन्होंने ऐसा तब किया, जब वो अपने पिता के शव (father’s dead body) को ढूंढने की कोशिश में यहां गई थीं. उनके पिता की मौत कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) से हुई थी. 37 साल की ओल्गा कागार्लिट्स्काया ने यह चौंकाने वाला दृश्य दक्षिण-पश्चिमी रूस के समारा शहर के एक मुर्दाघर (Mortuary) में अपने पिता के शव को ढूंढते हुए फिल्माया है.

सरकारी आंकड़ों से 3 गुना ज्यादा मौत के आंकड़ों का अनुमान
यह वीडियो इस डर के बीच सामने आया है जिसमें अनुमान लगाया जा रहा है कि महामारी से रूस में हुई मौतों का सच्चा आंकड़ा, आधिकारिक आंकड़ों में रिकॉर्ड की गई मौतों से तीन गुना अधिक है.सोमवार को, रूस में राजधानी मास्को में 6,360 कोरोना वायरस संक्रमण सहित रिकॉर्ड 22,778 नए कोरोना वायरस संक्रमण के मामले दर्ज किये गये हैं. इससे रूस में अब तक आए कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 19,48,603 हो गई है.

कोरोना रोगियों के लिए एंबुलेंस चलाते हुए संक्रमित हुए
ओल्गा ने बताया कि उनके पिता, गेनेडी कागार्लिट्स्काया को कोविड-19 रोगियों के लिए एम्बुलेंस चालक के रूप में काम करते हुए कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ था.

मिस समारा 2005 रहीं ओल्गा जब अपने पिता की डेडबॉडी लेने गईं, तो मुर्दाघर में कर्मचारियों ने उनकी अनदेखी की. कर्मचारियों ने उसे देखने से रोकने की कोशिश की कि कितनी लाशों को काले बैगों में रखा गया था.

पूर्व सरकारी अधिकारी भी लगा चुके हैं आंकड़ों के झूठे होने का आरोप
उन्होंने वीडियो में यह भी कहा, “हमारे यहां समारा में (कोरोना वायरस के) आधिकारिक मृतकों का आंकड़ा सात है. यहां हम सात से बहुत ज्यादा देख रहे हैं. वे अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए काम के दौरान बीमार पड़े थे.”

यह भी पढ़ें: कैमरा वाले मोबाइल फोन का किसने किया था आविष्कार? जानिए फ्रांस से जुड़े ऐसे ही 12 मजेदार फैक्ट्स

ओल्गा ने कहा कि समारा में मुर्दाघर के कर्मचारियों ने उसे बताया कि वे कोविड-19 पीड़ितों के 50 से अधिक शवों को संभाल रहे हैं. रूसी सरकार के एक पूर्व अधिकारी के यह आरोप लगाने के बाद इस मॉडल का वीडियो आया है कि देश में प्रतिदिन होने वाली मृत्यु के आंकड़े “पूरी तरह से झूठे” हैं.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here