• Hindi News
  • Sports
  • Indian Women’s Football Team To Resume Training In Goa From Tuesday In A Strict Bio secure Environment

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) के मुताबिक, कोविड-19 प्रोटोकॉल और गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए ही ट्रेनिंग शुरू की जाएगी। (फाइल फोटो)

भारतीय महिला फुटबॉल टीम मंगलवार से गोवा में अपने पहले ट्रेनिंग कैम्प में हिस्सा लेगी। कोरोना के बीच कोच मेयमोल रॉकी के अंडर में 9 महीने के बाद टीम मैदान पर वापसी करेगी। इसके लिए गोवा में बायो-बबल तैयार किया गया है। ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) के मुताबिक, कैम्प के स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर (SOP) जारी की गई है। कोविड-19 प्रोटोकॉल और गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए ही ट्रेनिंग शुरू की जाएगी।

टीम पूरी तरह तैयार
कोच रॉकी ने बताया कि टीम ट्रेनिंग फिर से शुरू करने को लेकर पूरी तरह तैयार है। हमारा फोकस 2022 में होने वाले AFC वुमन्स एशियन कप पर है। उन्होंने कहा कि एशियन कप हमारी वुमन्स सीनियर नेशनल टीम के एक अहम इवेंट है। हमने ओलिंपिक क्वालिफायर में भी हिस्सा लिया था, लेकिन एशियन कप अपने आप में एक अलग चुनौती है।

इन प्रोटोकॉल को फॉलो करना होगा

  • अपने होमटाउन से निकलने से पहले खिलाड़ी को ICMR से मान्यता प्राप्त लैब से कोरोना टेस्ट कराना होगा। रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही वह सावधानी के साथ ट्रैवल कर सकते हैं।
  • गोवा पहुंचकर सभी को रैपिड एंटीजन टेस्ट कराना होगा। रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही खिलाड़ी अपने रूम में जा सकेंगे।
  • खिलाड़ियों को यहां 7 दिन तक क्वारैंटाइन रहना होगा। इस दौरान खिलाड़ियों की सेहत की मॉनिटरिंग की जाएगी।
  • 8वें दिन रैपिड एंटीजन टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ी ट्रेनिंग से जुड़ सकेंगे।
  • इस दौरान हेल्थ मिनिस्ट्री और लोकल अथॉरिटी की ओर से जारी की गई गाइडलाइन का भी पालन करना होगा।

महिला एशिया फुटबॉल कप 2022 भी भारत में ही होगा
2022 में होने वाला अंडर-17 महिला वर्ल्ड कप भारत में होने वाला दूसरा फीफा टूर्नामेंट है। इससे पहले देश को 2017 में अंडर-17 पुरुष वर्ल्ड कप की मेजबानी मिल चुकी है। वहीं, महिला एशियन फुटबॉल कप 2022 भी भारत में ही होगा। यह टूर्नामेंट 42 साल बाद देश में होने जा रहा है। इससे पहले 1979 में मेजबान मिली थी, तब भारतीय टीम रनरअप रही थी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here