Wednesday, April 14, 2021
HomeUncategorizedकृषि विधेयक पर निष्कासित कांग्रेस नेता ने अपनी ही पार्टी पर साधा...

कृषि विधेयक पर निष्कासित कांग्रेस नेता ने अपनी ही पार्टी पर साधा निशाना, जानिए क्या कहा


संजय झा ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

संजय झा (Sanjay Jha) ने ट्वीट किया है-‘दोस्तों, 2019 लोकसभा इलेक्शन के मेनिफेस्टो में हमने (कांग्रेस) खुद APMC Act खत्म करने और खाद्य उपज को प्रतिबंधों से मुक्त करने की बात की थी. मोदी सरकार ने कृषि विधेयक में कुछ ऐसा ही किया है. इस जगह पर कांग्रेस और बीजेपी की सोच एक जैसी ही है.’

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 18, 2020, 5:44 PM IST

नई दिल्ली. कांग्रेस पार्टी से निष्कासित नेता संजय झा (Sanjay Jha) ने कृषि विधेयक (Framers Bill) को लेकर अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट किया है कि खुद कांग्रेस भी 2019 के लोकसभा चुनाव में APMC Act को खत्म किए जाने का वादा मेनिफेस्टो में कर चुकी है. बीजेपी ने कृषि विधेयक बिल लाकर कांग्रेस के मनमुताबिक काम ही किया है. संजय झा के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें तीखी प्रतिक्रिया झेलनी पड़ रही है.

झा ने ट्वीट किया है-‘दोस्तों, 2019 लोकसभा इलेक्शन के मेनिफेस्टो में हमने (कांग्रेस) खुद APMC Act खत्म करने और खाद्य उपज को प्रतिबंधों से मुक्त करने की बात की थी. मोदी सरकार ने कृषि विधेयक में कुछ ऐसा ही किया है. इस जगह पर कांग्रेस और बीजेपी की सोच एक जैसी ही है.’ गौरतलब है कि गुरुवार को संसद से कृषि विधेयकों के पास हो जाने के बाद केंद्र सरकार में मंत्री और अकाली नेता हरसिमरत कौर बादल ने इस्तीफा दे दिया है. हालांकि अभी तक अकाली दल ने एनडीए से समर्थन वापस लेने की बात पर फैसला नहीं किया है.

इससे पहले गुरुवार को ही कई ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों को आश्वस्त किया था. उन्होंने कहा है-‘किसानों को भ्रमित करने में बहुत सारी शक्तियां लगी हुई हैं. मैं अपने किसान भाइयों और बहनों को आश्वस्त करता हूं कि MSP (Minimum Support Price-MSP) और सरकारी खरीद (government procurement) की व्यवस्था बनी रहेगी. ये विधेयक वास्तव में किसानों को कई और विकल्प प्रदान कर उन्हें सही मायने में सशक्त करने वाले हैं.’ पीएम ने लिखा- ‘लोकसभा में ऐतिहासिक कृषि सुधार विधेयकों का पारित होना देश के किसानों और कृषि क्षेत्र के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है. ये विधेयक सही मायने में किसानों को बिचौलियों और तमाम अवरोधों से मुक्त करेंगे. इस कृषि सुधार से किसानों को अपनी उपज बेचने के लिए नए-नए अवसर मिलेंगे, जिससे उनका मुनाफा बढ़ेगा. इससे हमारे कृषि क्षेत्र को जहां आधुनिक टेक्नोलॉजी का लाभ मिलेगा, वहीं अन्नदाता सशक्त होंगे.’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments