Spread the love


सेल्फी लेते समय नदी में गिरी थी युवती

खड्डा थाने के बसडीला निवासी सौम्या जायसवाल अपने परिवार के साथ बिहार स्थित मदनपुर देवी स्थान पर दर्शन करने गई थी. वापस लौटते वक्त अपने भाई बहन के साथ छितौनी बगहा रेल पुल पर सेल्फी ले रही थी. इसी बीच सौम्या का संतुलन बिगड़ गया और बड़ी गंडक नदी में गिर गई.

कुशीनगर. जाको राखे साईंया मार सके ना कोय, यह कहावत कुशीनगर (Kushinagar) में हुई एक घटना पर सत्य प्रतीत होती है. खड्डा थाने के पनियहना रेल सड़क पुल पर सेल्फी लेते समय एक युवती गंडक नदी में गिर गई. उफनाती नदी में युवती कभी पानी में डूबती तो कभी उपर आ जाती. नदी की धारा में बह रही युवती काफी देर तक जद्दोजहद करती रही. नदी की धारा में युवती लगभग तीन सौ मीटर तक बही. इसी बीच स्टीमर सवार पुलिसवालों ने युवती को बचा लिया. युवती को लेकर नदी के बाहर आने पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई. मौके पर जमा हुए लोग स्टीमर चालक और उस पर सवार लोगों की प्रशंसा करते हुए उनके साहस को सलाम कर रहे थे.

खड्डा थाने के बसडीला निवासी सौम्या जायसवाल अपने परिवार के साथ बिहार स्थित मदनपुर देवी स्थान पर दर्शन करने गई थी. वापस लौटते वक्त अपने भाई बहन के साथ छितौनी बगहा रेल पुल पर सेल्फी ले रही थी. इसी बीच सौम्या का संतुलन बिगड़ गया और बड़ी गंडक नदी में गिर गई. इसके बाद वहां चीख पुकार मच गई. नदी की बीच धारा में गिरी सौम्या बहने लगी. कभी नदी में डूब जाती तो कभी वह उपर आ जाती. काफी देर तक नदी की धारा में बहते हुए जीवन और मौत से संघर्ष करती रही. चीख पुकार सुनकर पुलिस चौकी के सिपाही और स्थानीय नाविक स्टीमर लेकर नदी में उतर गये और लगभग दो सौ मीटर तक पीछा करके सौम्या को पकड़ लिया. इसके बाद उसे लेकर नदी के बाहर आये.

पहले भी हो चुके हैं हादसे

आपको बताते चलें की इस पुल पर सेल्फी लेने के चक्कर में कई हादसा हो चुका है. बावजूद इसके लोग मानते नहीं है. सौम्या को बचाने वाले कांस्टेबल प्रेमशंकर ने बताया कि शोर सुनकर उन्होंने नदी में देखा तो कोई डूब रहा था, जिसे देखकर उनका दिल पसीज गया और बिना सोचे समझे वे स्टीमर और अन्य साथियों के साथ नदी में उतर गए और सौम्या को बचा लिया. उन्होंने बताया कि तेज बहाव के कारण डर तो लग रहा था लेकिन ईश्वर पर भरोसा था कि हम लोग उसकी जान बचा लेंगे.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here