Spread the love


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Shakib Al Hasan Death Threat On Facebook Live Bangladesh Cricketer Shakib Kali Puja In Kolkata

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोलकाता7 घंटे पहले

शाकिब अल हसन (ब्लू ब्लेजर में मास्क लगाए) गुरुवार को कोलकाता पहुंचे थे। यहां बेलीघाट क्षेत्र में उन्होंने काली पूजा भी की थी।

बांग्लादेशी क्रिकेटर शाकिब अल हसन को जान से मारने की धमकी देने वाले मोहसिन तालुकदार को बांग्लादेश पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मोहसिन ने शाकिब को कोलकाता में मां काली की पूजा करने पर जान से मारने की धमकी दी थी। इसके बाद शाकिब ने पूजा करने पर माफी भी मांग ली थी।

बांग्लादेश की रैपिड एक्शन बटालियन ने मंगलवार शाम को 28 साल के मोहसिन तालुकदार को साउथ-ईस्टर्न सुनामगंज से गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक, जांच के बाद उसके खिलाफ आगे की कार्रवाई की जाएगी।

फेसबुक लाइव पर शाकिब को धमकी
दरअसल, शाकिब पिछले गुरुवार को कोलकाता पहुंचे थे। यहां बेलीघाट क्षेत्र में उन्होंने काली पूजा की थी। इसके अगले दिन वे बांग्लादेश लौट गए थे। इसके बाद सिलहट शहर के मोहसिन तालुकदार ने रविवार को फेसबुक लाइव के दौरान शाकिब को जान से मारने की धमकी दी थी। उसने दावा किया कि शाकिब ने मुस्लिमों का अपमान किया। उसने कहा- अगर शाकिब को मारने के लिए उसे सिलहट से ढाका आना पड़े, तो वह आएगा।

शाकिब ने माफी मांगी
शाकिब ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘‘मैं फिर से उस जगह (कोलकाता) नहीं जाना चाहूंगा। यदि आपको लगता है कि यह आपके खिलाफ हुआ है, तो मैं माफी मांगता हूं। मैं कोशिश करूंगा कि यह दोबारा न हो। न्यूज और सोशल मीडिया पर खबरें चल रहीं हैं कि मैं समारोह के लिए गया था, लेकिन ऐसा नहीं है। मैंने कोई वैसा (पूजा) काम भी नहीं किया। जागरुक मुस्लिम होने के नाते मैं ऐसा नहीं करूंगा। यह मामला बहुत संवेदनशील है। अगर मुझसे कोई गलती हुई है, तो मैं उसके लिए माफी मांगता हूं।’’

मोहसिन की पत्नी को हिरासत में लिया
शाकिब को धमकी देने वाला मोहसिन फरार हो गया था। सिलहट पुलिस ने उसकी पत्नी को हिरासत में लिया था। वहीं, आरोपी के परिवार ने मोहसिन को ड्रग एडिक्ट बताया।

आरोपी ने माफी भी मांगी
यह फेसबुक लाइव रविवार दोपहर को किया था। इसके बाद आरोपी ने एक और लाइव किया और माफी मांगी। इस दौरान शाकिब समेत उसने सभी सेलिब्रिटीज को सलाह भी दी कि उन्हें ऐसे काम नहीं करना चाहिए। हालांकि, यह दोनों ही वीडियो फेसबुक से हटा दिए गए हैं।

वीडियो लिंक की जांच शुरू
सिलहट के एडीजी पुलिस बीएम अशरफ उल्लाह ताहिर ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। वीडियो लिंक को जांच के लिए साइबर फॉरेंसिक टीम को सौंप दिया है।

फिक्सिंग के चलते शाकिब प्रतिबंध झेल चुके हैं
शाकिब पर फिक्सिंग मामले के चलते प्रतिबंध लगाया गया था। यह 29 अक्टूबर को ही खत्म हुआ है। अब शाकिब ने मैदान पर वापसी की है। फिलहाल, वे प्रैक्टिस शुरू कर चुके हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here