Friday, July 23, 2021
HomeSportsओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु ने टूर्नामेंट से नाम वापस लिया, नवंबर में...

ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु ने टूर्नामेंट से नाम वापस लिया, नवंबर में एशिया चैम्पियनशिप में खेल सकती हैं


  • Hindi News
  • Sports
  • Denmark Open Badmintion Tournament PV Sindhu Saina Nehwal Kidambi Srikant News And Update

16 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भारतीय स्टार शटलर पीवी सिंधु नवंबर में एशिया ओपन- I और एशिया ओपन- II में खेल सकती हैं। -फाइल फोटो

  • कोरोना के कारण डेनमार्क ओपन अनिश्चितकाल के लिए टल चुका है, पहले यह 13 से 18 अक्टूबर तक होना था
  • साइना नेहवाल, पारुपल्ली कश्यप, किंदाबी श्रीकांत, लक्ष्य सेन और सुभंकर डेनमार्क ओपन में खेलेंगे

भारतीय शटलर और ओलिंपिक में सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु ने डेनमार्क ओपन से नाम वापस ले लिया है। हालांकि, कोरोना के कारण यह टूर्नामेंट अनिश्चितकाल के लिए टल चुका है। पहले यह टूर्नामेंट 13 से 18 अक्टूबर तक ओडेंस में होने वाला था।

बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया (बाई) ने इस टूर्नामेंट में खेलने के लिए खिलाड़ियों की राय मांगी है। इसी दौरान सिंधु ने टूर्नामेंट में नहीं खेलने की बात कही। हालांकि वह नवंबर में होने वाले एशिया ओपन- I और एशिया ओपन- II में खेल सकती हैं।

साइना समेत दूसरे भारतीय खिलाड़ी डेनमार्क ओपन खेलेंगे

बाई ने डेनमार्क ओपन के लिए खिलाड़ियों को इंट्री फॉर्म भेजकर सहमति मांगी थी। इसमें उन्हें यह लिखकर देना था कि कोरोना के बीच वह टूर्नामेंट के लिए यात्रा करने के लिए तैयार है। एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि किदांबी श्रीकांत, लक्ष्य सेन, साइना नेहवाल, पारुपल्ली कश्यप और सुभंकर डे ने अपनी सहमति भेज दी है। जबकि सिंधु ने अपनी सहमति नहीं दी है।

सिंधु ने थॉमस कप से भी नाम वापस ले लिया था, लेकिन बाद में राजी हो गईं

2021 तक के लिए टल चुके थॉमस और उबेर कप से भी सिंधु ने अपना नाम वापस ले लिया था। लेकिन बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया(बाई) के अध्यक्ष हेमंत बिस्वा के अनुरोध पर खेलने के लिए तैयार हो गई थी।पहले यह टूर्नामेंट 3 से 12 अक्टूबर तक होना था। इंडोनेशिया समेत कोरिया, थाईलैंड, ऑस्ट्रेलिया, ताईवान, सिंगापुर और हांगकांग जैसे बड़े देश भी टूर्नामेंट से हट चुके हैं।

0



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments