वाराणसी की पहाड़िया मंडी में जो सरकारी स्टाल

वाराणसी (Varanasi) की मंडी में स्थित सरकारी स्टॉल पर 10 दिन पहले तक आलू 28 रुपए और प्याज 35 रुपए किलो बिक रहा था. लेकिन महंगाई की ऐसी मार पड़ी कि कुछ दिनों में ही ये सरकारी स्टॉल बंद हो गया.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 25, 2020, 10:13 AM IST

वाराणसी. आलू (Potato) और प्याज (Onion) पर चढ़ा महंगाई का रंग हल्का होने का नाम नहीं ले रहा है. आलम ये है कि आलू और प्याज के बढ़े दामों से कुछ राहत देने के लिए वाराणसी (Varanasi) की पहाड़िया मंडी में जो सरकारी स्टॉल (Government Stall) खोला गया, वो भी महंगाई की मार से दम तोड़ गया. जी हां, बढ़े दाम के बाद सरकारी स्टॉल भी बंद कर दिया गया.

दरअसल योगी सरकार की तरफ से पिछले दिनों महंगाई से निपटने के लिए प्रदेश के हर जिले में मंडियों में सरकारी स्टॉल लगाकर आलू और प्याज बेचने का फरमान जारी किया गया था. इसी क्रम में वाराणसी में भी पहाड़िया मंडी में सरकारी स्टॉल लगाया गया. लेकिन महंगाई की ऐसी मार पड़ी कि कुछ दिनों में ही ये सरकारी स्टॉल बंद हो गया. यहां बैनर पोस्टर और खाली कुर्सियां ही अब दिखाई दे रहे हैं.

रोज नई ऊंचाई पर पहुंच रहे आलू-प्याज के दाम
बता दें आलू और प्याज की कीमतें एक बार फिर तेजी से बढ़ना शुरू हो गई हैं. नया आलू 40 रुपए से बढ़कर 50 रुपए किलो हो गया है, जबकि प्याज का रेट 40-45 से 15 रुपए बढ़कर 55-60 हो गया है. आलू और प्याज की महंगाई से थोड़ी राहत देने के लिए मंडी प्रशासन की ओर से पिछले दिनों पहाड़िया मंडी में सरकारी स्टॉल खोला गया था. जहां बाजार से कुछ कम कीमत पर आलू और प्याज मिल रहा था लेकिन बढ़ते दामों के आगे हांफते हुए इस स्टॉल ने भी दम तोड़ दिया. अब इस स्टॉल पर ताला जड़ गया है.सरकारी स्टॉल बंद होने से लोग हुए मायूस
10 दिन पहले तक इसी स्टॉल पर आलू 28 रुपए और प्याज 35 रुपए किलो बिक रहा था. अब ऐसे में इस स्टाल के भरोसे किचन की गाड़ी चलाने वालों को भी काफी मायूसी हो रही है. न्यूज-18 की टीम जब यहां पहुंची तो ताला लगा था. कोई अफसर, कोई कर्मचारी वहां मौजूद नहीं था. पास में खड़े गार्ड देवी लाल से जब बात की तो उसने बताया कि स्टॉल बंद कर दिया गया है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here