पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. (सांकेतिक तस्वीर)

लखनऊ पुलिस (Lucknow Police) ने डॉक्टर का अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने एक महिला और उसके सहयोगी को गिरफ्तार किया है

लखनऊ. लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस ने सेक्स एक्सटॉर्शन (Sex Extortion) चलाने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए एक महिला और उसके सहयोगी को गिरफ्तार किया है. आरोप है कि इन लोगों ने कई लोगों के साथ अश्लील वीडियो बनाए और बाद में उन को ब्लैकमेल किया. जो मान गए वह ठीक नहीं तो उनके साथ मारपीट कर रंगदारी भी वसूली गई. 1 दिसंबर को एक डेंटल सर्जन डॉक्टर अखिलेश चौबे के साथ यही कोशिश हुई जिसके बाद पूरे गिरोह का खुलासा हुआ.

लखनऊ कमिश्नरेट के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर नीलाब्जा चौधरी ने बताया 1 दिसंबर की रात डॉक्टर अखिलेश कुमार चौबे का उन्हीं की कार में कुछ लोगों ने विभूति खंड इलाके से अगवा कर ओमेक्स बिल्डिंग में एक फ़्लैट में लेकर गए, जहां पर नीशू उर्फ कहकशा खान मौजूद थी. नीशू उसकी बहन सना उर्फ तबस्सुम उर्फ देवांशी पहले से ही डॉक्टर चौबे के परिचित थे. फ्लैट में पहले से ही आदिल, सचिन रावत ,बलराम वर्मा ,प्रवेश जयसवाल और नजर अब्बास भी मौजूद थे.

ये भी पढ़ें: Kisan Aandolan: 13 दिसंबर को राशन और बिस्तर के साथ दिल्ली कूच करेंगे राजस्थान के किसान

बंधक बनाकर लूटे पैसेज्वाइंट पुलिस कमिश्नर नीलाब्जा चौधरी के मुताबिक, इस गिरोह ने डॉक्टर अखिलेश को बंधक बनाया और जेब मे रखे 30 हज़ार रुपये निकाल लिए. डॉक्टर के चार एटीएम कार्ड भी इन सभी अपने कब्जे में  लेते हुए एटीएम कार्ड का पिन कोड पूछने लगे. जब डॉक्टर ने पिन देने से इनकार किया तो मारपीट करने लगे. जब डॉक्टर ने पिन बताने की बात कही तो डॉक्टर की अल्टो कार से आदिल और नजर अब्बास एटीएम से पैसा निकालने गए लेकिन गलत पिनकोड की वजह से पैसा नहीं निकल पाया.

सभी लौटकर फिर फ्लैट में आए और डॉक्टर चौबे मारपीट करने लगे. इसके बाद नशीला पदार्थ पिलाकर यह सभी ने डॉक्टर चौबे की नीशू के साथ अश्लील वीडियो और फोटो बना ली. अगले दिन सभी आरोपियों ने डॉक्टर चौबे से वही वीडियो और फोटो दिखा फिरौती की मांग करने लगे. मांग पूरी नहीं करने पर वीडियो इंटरनेट पर अपलोड करने की धमकी देने लगे.

ऐसे पुलिस की गिरफ्त में आए आऱोप

डॉक्टर चौबे अपने दोस्त से कहकर कुछ रकम की व्यवस्था करते हैं, जिसके बाद सभी बदमाश चौबे को गाड़ी में लेकर टेढ़ी पुलिया चौराहे तक जाते है जहां पर उनका दोस्त डॉक्टर संतोष रकम देने के लिए आता है. लेकिन वहीं पर पुलिस खड़ी होती है. इसको देखकर अपहर्ता घबराते हैं और डॉक्टर उनकी पकड़ से निकल कर पुलिस के पास पहुंच जाते है. कार्रवाई करते हुए पुलिस ने महिला और उसके सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here