राजागोपालास्वामी मंदिर में रहने वाले
Spread the love


राजागोपालास्वामी मंदिर में रहने वाले ‘सेनगामलम’ हथिनी की पहचान उसके बॉब कट की वजह से है.

Elephant bob-cut hairstyle video viral: हथिनी के सुर्खियों में आने के कारण है उसका बॉब कट हेयर स्टाइल ( bob-cut hairstyle). उसका हेयर स्टाइल ही कुछ ऐसा है कि जो उसे देखता है उसका मुंह खुला रह जाता है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 7, 2020, 9:59 PM IST

नई दिल्ली. हाथी एक ऐसा जानवर जो शरीर में काफी भारी होती है, अपनी मौज और मद मस्त चाल के लिए जाना जाता है. लेकिन तमिलनाडु (Tamil Nadu) के सेनगामलम (Sengamalam) के मन्नारगुडी में राजगोपालास्वामी मंदिर में रहने वाली एक हथिनी (Elephant) इन दिनों सोशल मीडिया (Social Media) पर किसी खास वजह से काफी चर्चा बंटोर रही है. हथिनी के सुर्खियों में आने के कारण है उसका बॉब कट हेयर स्टाइल ( bob-cut hairstyle).

उसका हेयर स्टाइल ही कुछ ऐसा है कि जो उसे देखता है उसका मुंह खुला रह जाता है, दरअसल इस हथिनी के बाल बॉब-कट हैं जिसकी वजह से वो और हाथियों से जुदा दिखती है. इस मंदिर में जो भी लोग दर्शन करने आते हैं इस हथिनी के साथ फोटो खिंचवाना नहीं भूलते हैं.

आप भी देखिए VIDEO…

इस हथिनी की देखभाल करने वाले महावत राजगोपाल का कहना है कि मैं उसे अपने बच्चे की तरह चाहता हूं, इसलिए मैं इसे खास लुक देना चाहता था और एक बार मैंने इंटरनेट पर एक वीडियो देखा था जिसमें हाथी के बच्चे का बॉब -कट मुझे काफी पसंद आया था और इसके बाद से ही मैंने सेनगामलम के बाल उगाने शुरू कर दिए, हाालांकि इस काम में उन्हें मुश्किलों का सामना भी करना पड़ा.

गर्मियों में 3 बार धोए जाते हैं बाल
हथिनी की देखभाल करने वाले महावत का कहना है कि उसके बाल हमेशा ही अच्छे और खूबसूरत दिख सकें इसके लिए खास देखभाल की जाती है. गर्मियों के मौसम में हथिनी के बाल 3 बार धोए जाते हैं. जबकि बाकि के मौसम में दिन में एक बार तो बालों को अच्छे से साफ किया जाता है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here