केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने अखिलेश यादव पर निशाना साधा है.

Covid-19 Vaccine: यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाने के बयान से सियासी पारा चढ़ गया है. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Union Ministers Giriraj Singh) ने कहा कि ये लोग छुपकर वैक्सीन लगवा लेंगे और लोगों को भ्रम में रखेंगे.

लखनऊ/नई दिल्‍ली. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने शनिवार को लखनऊ में बड़ा बयान दिया था कि मैं नहीं लगवाऊंगा बीजेपी की कोरोना वैक्सीन, क्योंकि मुझे बीजेपी पर भरोसा नहीं है. इसके साथ उन्‍होंने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा था कि जो सरकार ताली और थाली बजवा रही थी, वो वैक्सीनेशन के लिए इतनी बड़ी चेन क्यों बनवा रही है. ताली और थाली से ही कोरोना को भगवा दें ना. अखिलेश के इस बयान के बाद सियासत तेज हो गई है. खासकर वह भाजपा के निशाने पर आ गए हैं. इस बीच भाजपा के दिग्‍गज नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Union Ministers Giriraj Singh) ने अखिलेश यादव के वैक्सीन नहीं लगवाने के बयान पर तंज कसा है. उन्‍होंने कहा कि ये लोग छुपकर वैक्सीन लगवा लेंगे और लोगों को भ्रम में रखेंगे. वे राजनीतिक दृष्टि से ऐसा बोल रहे हैं. वैक्सीन देश का है, वैज्ञानिक देश के हैं और आत्मनिर्भर भारत के लिए इससे अच्छा उदाहरण और कुछ नहीं हो सकता.

बहरहाल, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा था,‘मैं तो नहीं लगवाऊंगा अभी टीका, मैंने अपनी बात कह दी. वह भी भाजपा लगायेगी, उसका भरोसा करूं मैं. अरे जाओ भई, अपनी सरकार आयेगी तो सबको फ्री वैक्सीन लगेगी. हम भाजपा का टीका नहीं लगवा सकते. इस पर यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अखिलेश यादव को वैक्सीन पर भरोसा नहीं है, वहीं उत्तर प्रदेश के लोगों को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर भरोसा नहीं है. उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव का वैक्सीन पर सवाल उठाना हमारे देश के चिकित्सकों एवं वैज्ञानिकों का अपमान है. मौर्य ने कहा कि अखिलेश यादव को अपने बयान के लिए माफ़ी मांगनी चाहिए.

मायावती ने किया स्‍वागत
बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती (Mayawati) ने कोरोना वैक्सीन के भारत में आगमन को सराहा है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने स्वदेशी वैक्सीन की सफलता पर वैज्ञानिकों को बधाई भी दी है. मायावती ने लिखा, ‘अति-घातक कोरोना वायरस महामारी को लेकर आए स्वदेशी वैक्सीन (टीके) का स्वागत व वैज्ञानिकों को बहुत-बहुत बधाई. साथ ही, केन्द्र सरकार से विशेष अनुरोध भी है कि देश में सभी स्वास्थ्यकर्मियों के साथ-साथ सर्वसमाज के अति-गरीबों को भी इस टीके की मुफ्त व्यवस्था की जाए तो यह उचित होगा.’








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here